आई.पी.एलक्रिकेटखेल

चेन्नई को मिली पहली हार, पंजाब के ‘शेरों’ ने 4 रनों से हराया

नई दिल्लीः चेन्नई सुपर किंग्स को किंग्स इलेवन पंजाब के हाथों टूर्नामेंट की पहली हार मिल चुकी है। रोमांचक मुकाबले में पंजाब ने चेन्नई को 4 रनों से हराया। अंतिम ओवर में 17 रनों की जरूरत थी, लेकिन मोहित शर्मा ने टीम को हार से बचा लिया। चेन्नई को पहला झटका दूसरे ओवर की अंतिम गेंद पर शेन वाटसन(11) के रूप में लगा। उन्हें मोहित शर्मा ने आउट किया। इसके बाद पांचवे ओवर की पहली ही गेंद पर एंड्रयू टाय ने मुरली विजय(12) के रूप में पंजाब को दूसरी सफलता दिलाई। इसके बाद चेन्नई उस वक्त मुसीबत में आ गई जब सातवें ओवर की चाैथी गेंद पर कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने अंपायर के फैसले को चुनाैती दी। दरअसल, सैम बिलिंग्स अश्विन का सामना कर रहे। गेंद पैड पर लगी आैर बाउंड्री पर जा पहुंची। अश्विन ने एल्बीडब्ल्यू की अपील की लेकिन अंपायर ने 4 रन दे दिए। अश्विन ने रिव्यू मांगा जिसमें बिलिंग्स साफ आउट होते दिख रहे थे। इसके बाद अंपायर ने गलती मानते हुए बिलिंग्स को आउट दिया आैर पंजाब ने तीसरा शिकार कर लिया। इसके बाद अंबाती राडुयू 14वें ओवर की चाैथी गेंद पर रन आउट हो गए आैर 49 रन बनाकर पवेलियन लाैटे।

इससे पहले पंजाब ने चेन्नई के खिलाफ सात विकेट पर 197 रन बनाए। विस्फोटक बल्लेबाज गेल ने फ्रेंचाइजी के लिए पदार्पण करते हुए 63 रन बनाए जिसमें उन्होंने 33 गेंद का सामना करते हुए अपनी पारी में सात चौके और चार छक्के जड़े तथा राहुल (37 रन, 22 गेंद और सात चौके) के साथ आठ ओवर में 96 रन जुटाये। चौथे ओवर में इन दोनों ने हरभजन सिंह (41 रन देकर एक विकेट) की गेंदों को पीटते हुए एक छक्के और दो चौके से 19 रन जोड़े।

ताहिर की गेंद पर आउट हुए गेल
अगले ओवर में दोनों ने शार्दुल ठाकुर के ओवर में तीन चौके जड़कर 14 रन बनाये। लेकिन छठा ओवर गेल के नाम रहा जिन्होंने दो छक्के और दो चौके से इसमें 22 रन जोड़े। इस तरह किंग्स इलेवन पंजाब ने पावरप्ले में 75 रन से इस सत्र में सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया। इमरान ताहिर (34 रन देकर दो विकेट) गेंदबाजी के लिए उतरे, जिनकी पहली गेंद को राहुल ने चौके के लिए पहुंचाया। चौथी गेंद पर गेल ने चौका लगाकर 22 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया। अंतिम गेंद को फिर वेस्टइंडीज के इस धुरंधर ने छक्के के लिए पहुंचाया जिससे इस ओवर में भी 17 रन जुड़े। राहुल अगले ओवर में हरभजन की गेंद पर ड्वेन ब्रावो को कैच देकर आउट हुए जिससे इस भागीदारी का अंत हुआ। मयंक अग्रवाल क्रीज पर उतरे। घरेलू टीम नौंवे ओवर में 100 रन पूरे कर चुकी थी। गेल और मयंक दूसरे विकेट के लिये 31 रन ही जोड़ सके थे कि शेन वाटसन ने इस साझेदारी को तोड़ दिया। गेल उनकी गेंद पर शार्ट फाइन लेग में इमरान ताहिर को आसान कैच देकर आउट हुए।

युवराज ने धोनी के हाथों में थमाया कैच
युवराज सिंह और मयंक ने मिलकर तीसरे विकेट के लिये 22 रन का इजाफा किया। 15वें ओवर की पहली गेंद पर मयंक (30 रन, 19 गेंद में एक चौका और दो छक्के) ताहिर का पहला शिकार हुए और अगली गेंद पर आरोन ङ्क्षफच आते ही चलते बने। शार्दुल ठाकुर (तीन ओवर में 33 रन देकर दो विकेट) ने अगले ओवर में युवराज का विकेट झटका जिन्होंने उनकी गेंद पर बल्ला छुआ दिया और विकेटकीपर धोनी ने इसे लपकने में जरा देर नहीं की। युवराज ने 13 गेंद में दो चौके और एक छक्के से 20 रन बनाये। करूण नायर (29 रन, 17 गेंद में दो चौके और एक छक्के) और कप्तान आर अश्विन ने कुछ अच्छे शाट लगाये तथा छठे विकेट के लिये 33 रन की भागीदारी कर स्कोर में इजाफा किया। पर शार्दुल की गेंद पंजाब के कप्तान के बल्ले को छूती हुई धोनी के हाथों में समां गयी। उन्होंने 11 गेंद में एक छक्के से 14 रन बनाये। इससे पिछली गेंद पर उन्होंने डीप फाइनल लेग पर छक्का जमाया था। ब्रावो ने नायर के रूप में एकमात्र विकेट झटका।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *