पहली रोबोट नागरिक सोफिया की अपील, मशीनों से न घबराएं इंसान

दुनिया की पहली रोबोट नागरिक सोफिया से रूबरू होने का तकनीक प्रेमी दिल थाम कर इंतजार कर रहे थे। शनिवार को आईआईटी मुंबई के टेक-फेस्ट में पहली ह्यूमनॉयड रोबोट

दुनिया की पहली रोबोट नागरिक सोफिया से रूबरू होने का तकनीक प्रेमी दिल थाम कर इंतजार कर रहे थे। शनिवार को आईआईटी मुंबई के टेक-फेस्ट में पहली ह्यूमनॉयड रोबोट सोफिया छात्रों के सामने थी।

तीन हजार से ज्यादा लोग यह देखने को बेताब थे कि एक रोबोट लोगों के सवालों का कैसे जवाब देती है। कार्यक्रम की शुरुआत बहुत शानदार रही।

सफेद रंग की साड़ी और नारंगी रंग के ब्लाउज में रोबोट को इंसान की तरह मंच पर आते देखना दिलकश नजारा था। उसने कुछ सवालों को बड़ी ही चतुराई और प्रभावी तरीके से जवाब दिया। दर्शक भी सोफिया के ‘दिमाग’ से प्रभावित नजर आए।

सोफिया ने इंसानों से मशीनों से न घबराने की अपील की। वह भविष्य में मशीनों और इंसानों के सह-अस्तित्व की वकालत करती नजर आई। सोफिया ने कहा कि वह दुनिया में बढ़ रही असहिष्णुता से चिंतित है। उसने कहा कि मानव जाति को दूसरे प्राणियों के प्रति दयालु होना चाहिए। इस रोबोट नागरिक को पहली बार भारत लाया गया है।

ये बातचीत इंटरव्यू फार्मेट में हुई, लेकिन कई जगह लगा कि सोफिया से पहले से तय सवाल पूछे जा रहे हैं। सोफिया ने हा, वह मानवों की सामाजिक और रचनात्मक कौशल से हैरान हैं और बहुत कुछ सीख रही हैं।

यह सिर्फ उनके प्रोग्रामरों की बदौलत है। हालांकि लगभग 20 मिनट की बातचीत के दौरान तकनीकी दिक्कतें भी पेश आने लगीं।
सबसे अलग है सोफिया…

सोफिया ने सवालों का जवाब देना बंद कर दिया। जब मंच के संचालक ने सोफिया से पूछा कि रोबोट पर काफी पैसा खर्च किया जा रहा है जबकि कई सारे दूसरे मुद्दे सामने हैं, तो वह कुछ नहीं बोली। इसके बाद आयोजकों ने तकनीकी कारणों से कार्यक्रम को रोकने की घोषणा कर दी। सोफिया को मंच से वापस ले जाई गई।

मायूस दर्शक जब सभागार से लौटने लगे तो आयोजकों की ओर से कहा गया कि कार्यक्रम कुछ देर में एक बार फिर शुरू हो जाएगा। कार्यक्रम फिर शुरू हुआ और सोफिया लोगों से बात करने के लिए मंच पर थी। आयोजकों ने सभागार के बाहर सोफिया को देखने के लिए उमड़ी भीड़ को देखते हुए एक और सेशन की व्यवस्था की।

सोफिया को सऊदी अरब ने इस साल अक्तूबर में पूर्ण नागरिक का दर्जा दिया है। सोफिया नागरिकता हासिल करने वाली दुनिया की पहली रोबोट है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से ये रोबोट बात कर सकती है। वह अपने विचार भी रखती है।

सोफिया के दिमाग को हैनसन रोबोटिक्स में अग्रणी एआई डेवलपर डेविड हैनसन ने तैयार किया है। सोफिया को बनाने वाले डेवलपर का कहना है कि वह अभी शुरुआती दौर में है। आगे उसमें और विकास देखने को मिलेगा।

advt
Back to top button