प्रदेश में पहली बार राइट टू रिकॉल से रतनपुर में चुनाव

अंकित मिंज

बिलासपुर। जिले के रतनपुर नगरपालिका अध्यक्ष आशा सूर्यवंशी को वापस बुलाने के लिए चुनाव 31 दिसंबर को मतदान होगा। वहीं शहीद नूतन सोनी स्कूल में मतगणना होगी और नतीजे घोषित किए जाएंगे।

ईवीएम चेक करने के लिए हैदराबाद से इंजीनियर आएंगे। छत्तीसगढ़ में राइट टू रिकॉल के तहत यह पहला चुनाव होगा। शासन ने राइट टू रिकॉल के लिए चुनाव आयोग को भेजा पत्र रतनपुर नगरपालिका परिषद में आशा सूर्यवंशी अध्यक्ष हैं।

वे कांग्रेस पार्टी की हैं। परिषद में सात कांग्रेस और सात भाजपा और एक निर्दलीय पार्षद हैं। सूर्यवंशी के खिलाफ कांग्रेस-भाजपा के असंतुष्ट पार्षदों ने आरोप लगाते हुए उन्हें पद से हटाने कलेक्टर से मांग की थी।

कलेक्टर ने इसे राज्य शासन को समुचित कार्रवाई के लिए भेजा था। राज्य शासन ने चुनाव आयोग को राइट टू रिकॉल के लिए पत्र भेजा था। राज्य निर्वाचन आयोग ने चुनाव कराने के लिए घोषणा करते हुए कार्यक्रम जारी किया था।

चुनाव कराने का जिम्मा स्थानीय निर्वाचन का है। रतनपुर नगर पालिका के 15 वार्डों के 25 मतदान केंद्रों में चुनाव के लिए स्थानीय निर्वाचन ने तैयारी शुरू कर दी है। नगर पालिका के 17 हजार 421 मतदाता चुनाव चिन्ह भरी कुर्सी और खाली कुर्सी में से चुनाव के लिए इवीएम में बटन दबाएंगे।

स्थानीय निर्वाचन के सहायक अधीक्षक मनोज धनंजय ने बताया कि 25 मतदान केंद्रों के लिए 25 इवीएम फर्स्ट लेवल चेंकिंग के बाद स्थानीय निर्वाचन से रतनपुर भेजी जाएगी। पांच इवीएम रिजर्व के तौर पर भेजी जाएगी।

इससे पहले हैदराबाद से इंजीनियर इवीएम चेक करने के लिए आएंगे। रतनपुर में ईवीएम की कमीशनिंग होगी और कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इधर अधिकारी व कर्मचारी रायपुर के सरकारी छापेखाने में मतपत्र लेने गए हैं।

चुनाव के रिटर्निंग ऑफिसर कोटा एसडीएम कीर्तिमान सिंह राठौर हैं। खाली कुर्सी में ज्यादा मत तो छोड़नी होगी कुर्सी यदि खाली कुर्सी पर ज्यादा मत पड़े तो अध्यक्ष को कुर्सी छोड़ने होगी। तब आयोग दूसरे चरण में अध्यक्ष का चुनाव कराने चुनाव कराएगा।

चुनाव चिन्ह भरी कुर्सी और खाली कुर्सी होगा। मतदाता सूची तैयार कर ली गई है। मतदाता सूची में 17421 मतदाताओं के नाम शामिल हैं। पूर्व में 16846 मतदाता थे। इसमें 599 नए मतदाताओं के नाम जोड़े गए जबकि 24 के नाम विलोपित किए गए। वहीं पांच मतदाताओं ने संशोधन कराया।

advt
Back to top button