क्राइमछत्तीसगढ़

किशोरी से अपहरण व दुष्कर्म के मामले में पांच पर आरोप सिद्ध

- नईम खान

बिलासपुर न्यायालय ने कन्या छात्रावास से किशोरी अपहरण व दुष्कर्म मामले में युवती सहित पांच आरोपी को दोषी पाया है, सजा की घोषणा 14 जून को की जाएगी.आरोपियों के खिलाफ धारा 376,363,366 पाक्सों एक्ट व एट्रोसिटी एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्घ कर न्यायालय में चालान पेश किया गया हैं .

सुरेश कुमार सोनी की अदालत में सुनवाई हुई , मंगलवार को मामले में अंतिम बहस उपरांत न्यायालय ने यशवंत व लुकमान को छोड़कर अन्य पांच आरोपियों को धारा 376,363,366 के तहत दोशी पाया है

बता दें की इस पूरें मामले में आरोपियों के खिलाफ धारा 376,363,366 पाक्सों एक्ट व एट्रोसिटी एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्घ कर न्यायालय में चालान पेश किया गया, सुरेश कुमार सोनी की अदालत में सुनवाई हुई , मंगलवार को मामले में अंतिम बहस उपरांत न्यायालय ने यषवंत व लुकमान को छोड़कर अन्य पांच आरोपियों को धारा 376,363,366 के तहत दोशी पाया है, न्यायालय ने आरोपियों की सजा पर मामले को सुनवाई के लि 14 जून को रखा है।

क्या हैं पूरा मामला

छात्रावास में रहकर 10वीं की पढ़ाई करने वाली किशोरी से टिकरापारा निवासी उर्फ ज्योति तिवारी परमेश्वर उर्फ छोटू तिवारी ने दोस्ती की थी, वह नौ फरवरी 2016 को छात्रा को अपने साथ मझवापारा ले गई, छात्रा से दो निों तक दुश्कर्म किया गया, इसके बाद छात्रा वापस आ गई.

13फरवरी को सोनम व दो युवक हॉस्टल आए और जबरदस्ती छात्रा को अपने साथ ले जाने लगे,अधीक्षक ने हास्टल से छात्रा का अपहरण कर ले जाने की सूचना सिविल लाइन पुलिस को दी, पुलिस ने अपहरण छात्रा को मुक्त करा उसका बयान दर्ज किया ,इसके बाद आरोपी युवती सोनम उर्फ ज्योति तिवारी निवासी टिकरापारा , विक्की उर्फ घनष्याम दास मानिकपुरी पिता मनहरण मानिकपुरी 24 निवासी लटियापारा मस्तूरी, यषवंत उर्फ मोनू पिता संतोश सिंह 25 निवासी मस्तूरी, हिमांषु उर्फ छोटा मानिकपुर पिता मनहरण मानिकपुरी, 22 निवासी लटियापारा मस्तूरी , मोहम्मद लुकमान 25 , आशीष उर्फ़ आशु तिवारी पिता अरविंद तिवारी 28 निवासी तिफरा,सिद्घनाथ उर्फ टनटन पिता डोमन विष्वकर्मा 27 निवासी मस्तूर

Summary
Review Date
Reviewed Item
किशोरी से अपहरण व दुष्कर्म के मामले में पांच पर आरोप सिद्ध
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.