नौकरी लगाने के नाम पर प्रार्थी से लिये पाँच लाख रूपये, गरियबांद क्षेत्र का

प्रार्थी ने सिटी कोतवाली गरियबांद में किया लिखित शिकायत

गरियाबंद: सिटी कोतवाली गरियबांद क्षेत्र में नौकरी लगाने के नाम पर प्रार्थी से पाँच लाख रूपये लेने का मामला सामने आया है। रुपया लेने के बाद आरोपी कई दिनों से लापता हो गया था, जिसके बाद प्रार्थी ने रिपोर्ट दर्ज कराई।

दरअसल प्रार्थी भुनेवर प्रसाद लहरे ने सिटी कोतवाली गरियबांद में लिखित शिकायत किया की वह वर्ष 2018-19 में पुलिस विभाग में आरक्षक भर्ती दिलाने गरियबांद आया था, लेकिन दौड़ में फेल हो गया था

उसी दौरान कमल मरकाम के साथ घर मे मुलाकात हुआ जिसके बाद आरोपी कमल मरकाम द्वारा पुलिस विभाग में बड़ा अधिकारी हॅू तथा पुलिस विभाग में आरक्षक के पद पर भर्ती में पास कराकर नौकरी लगा दुंगा कहा। जिसके लिए 05 लाख रुपये लगेगा बताया।

नौकरी की चाह में पार्थी ने आरोपी कमल मरकाम को नगद 02 लाख 90 हजार रुपये दे दिया और बाकी का रकम खाता के माध्यम दे दिया। जिसके बाद आरोपी नौकरी लगाने के नाम पर घुमाता रहा जब प्रार्थी को एहसास की वह ठगी का शिकार हुआ तब वह सिटी कोतवाली गरियाबंद में इसी लिखित में शिकायत की।

प्रकरण की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस अधीक्षक एम.आर.आहिरे द्वारा उक्त शिकायत आवेदन की जांच गंभीरता पूर्वक करते हुए त्वरित कार्यवाही करने के लिए गरियाबंद थाना प्रभारी राजेश जगत को निर्देशित किया

जिसके बाद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुखनंदन राठैर के मार्गदर्शन तथा एस.डी.ओपी संजय ध्रुव के पर्यवेक्षण में शिकायत आवेदन में उल्लेखित तथ्यों के आधार पर सुक्ष्मतापूर्वक जांच किया गया। शिकायत के आधार पर अपराध घटित होना पाये जाने पर आरोपी कमल मरकाम के विरूद्ध दिनांक 07.07.2019 को अपराध पंजीबद्ध किया गया।

तीन माह से लगातार फरार था आरोपी

नौकरी लगाने के नाम से ठगी करने वाला आरोपी कमल मरकाम लगातार फरार था। पुलिस गंभीरता से आरोपी के पता तलाश में जुटी थी। इसी दौरान पता चला कि आरोपी महासमुंद में है तभी पुलिस दबिश देकर आरोपी कमल मरकाम को महासमुंद से विधिवत गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा दिया गया।

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी गरियाबंद राजेश जगत, प्र.आर. मो. रब्बान खान, आरक्षक योजेश चन्द्राकर, सुशील पाठक, सुनिल नेताम, राकेश यादव, राजपाल नेताम, रविशंकर सोनवानी की सराहनीय भूमिका रही।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
Back to top button