Uncategorized

उत्तर प्रदेश में पांच वर्षीय बच्चे की मौत मंत्री के काफिले की कार से टकराकर

उत्तर प्रदेश में पांच वर्षीय बच्चे की मौत मंत्री के काफिले की कार से टकराकर

उत्तर प्रदेश सरकार के एक मंत्री के काफिले की कार से कथित तौर पर टकराकर पांच वर्षीय एक बच्चे की मौत हो गई.

पुलिस ने बताया कि कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर की कारों का काफिला शनिवार रात गोंडा जिले के कर्नलगंज से गुजर रहा था. काफिले की एक कार ने कथित रूप से बच्चे शिवा गोस्वामी को टक्कर मार दी. घायल बच्चे ने अस्पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया.

प्रत्यक्षर्शियों और बच्चे के परिवार वालों का आरोप है कि घायल बच्चे की मदद के लिए काफिले की कारों में बैठा कोई भी व्यक्ति नहीं आया. पिता विश्वनाथ ने आरोप लगाया कि फूल मालाओं से सजी मंत्री की कार भी मौके से चली गई.

राजभर का हालांकि दावा है कि घटना के समय वह दूसरी कार में थे जो मौके से 25 किलोमीटर दूर थी.

बताया जाता है कि बच्चा सड़क किनारे खेल रहा था, तभी मंत्री की कारों के काफिले की एक कार ने उसे टक्कर मार दी. बच्चे की मां और दादी उस समय वहीं मौजूद थे.

घटना के बाद नाराज गांव वालों ने बच्चे के शव के साथ सड़क पर प्रदर्शन शुरू कर दिया. वे दोषियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे.बच्चे के पिता द्वारा उसका शव ले जाने का फोटो टीवी चैनलों पर वायरल हो गया.

योगी ने दिया जांच का आदेश, विपक्ष ने मांगा इस्तीफा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के पुलिस महानिदेशक को निर्देश दिया है कि वह मामले की जांच कर रिपोर्ट सौंपे.

योगी ने मृतक बच्चे के परिजनों को पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद का भी ऐलान किया. साथ ही पुलिस महानिदेशक को निर्देश दिया कि घटना के दोषियों पर कड़ी कार्रवाई हो.

इस बीच गोंडा के जिलाधिकारी जे बी सिंह ने बताया कि अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

विपक्षी दलों ने मंत्री की आलोचना की है. एसपी ने उनके इस्तीफे की मांग की है. एसपी नेता जूही सिंह ने कहा कि मंत्री ने वहां रूककर बच्चे को अस्पताल ले जाने की आवश्यकता भी नहीं समझी. उन्होंने कहा कि मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए अन्यथा मुख्यमंत्री कार्रवाई करें.

बीएसपी नेता सुधींद्र भदौरिया ने घटना को शर्मनाक करार देते हुए कहा कि यह हमें सामंती युग की याद दिलाती है.राजभर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रमुख हैं. यह पार्टी उत्तर प्रदेश में सत्ताधारी बीजेपी की सहयोगी है.

राजभर ने शनिवार को कर्नलगंज तहसील के गौरा सिंहपुर में अपने दल सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा था.

प्राथमिक विद्यालयों के बच्चे पहले होमगार्ड जैसी वर्दी पहनकर विद्यालय जाते थे. उसकी जगह सुंदर पोशाक दी गई है. इसके बाद यदि किसी ने अपने बच्चे को पढ़ने के लिए विद्यालय नहीं भेजा तो मैं उसे जेल भेजवाने की तैयारी भी कर रहा हूं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button