मध्यप्रदेश

मध्य प्रदेश में मूसलाधार बारिश से बाढ़ के हालात, सीएम ने दिए आवश्यक दिशा निर्देश

बड़े तालाब का पानी लेवल तक पहुुंच गया है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में भारी बारिश का दौर जारी है। लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से प्रदेश के अधिकांश जिलों में बाढ़ की स्थिति निर्मित हो गई है। नदिया और नाले उफान पर है। आम जीवन बुरी तरह से प्रभावित हो गया है। राजधानी भोपाल में पिछले 24 घंटे से जारी भारी बारिश के बाद राजधानी के आसपास के नदी नाले उफान पर है। बड़े तालाब का पानी लेवल तक पहुुंच गया है।

केरवा डेम और भदभदा डेम लबालब होने क बाद आज शनिवार को भदभदा के 4 खोले गए। डेम के गेट खुलने पर प्रशासन के द्वारा पुख्ता इंतजाम किए गए। भदभदा के 4 गेट खुले पहला सुबह 8.40, दूसरा 10 बजे, तीसरा 10.30 और चौथा 11.15 बजे खुला।

वहीं सीएम शिवराज ने शनिवार सुबह बैठक कर अधिकारियों को निर्देश दिए है। उन्होंने ट्वीट कर बाड़ में फंसे लोगों को मदद मुहैया कराने का आश्वासन दिया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘प्रदेश के लगभग सभी जिलों में मूसलाधार वर्षा हो रही है।

आज मैंने बैठक कर व्यवस्थाओं और टीम को मुस्तैद रखने के निर्देश दिये हैं। प्रदेश का कंट्रोल रूम 24 घंटे सक्रिय रहेगा। हर जिले में आपदा नियंत्रण के लिए टीम तैयार है। कोई कठिनाई हो, तो सूचित करें; तत्काल मदद पहुंचेगी। प्रदेश में हो रही लगातार वर्षा से उत्पन्न विपरीत परिस्थितियों से बचाव के लिए अलर्ट रहें।

एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने कहा ‘बाढ़ की स्थिति की सूचनाओं के आदान-प्रदान व समन्वय स्थापित करने के लिए जिला कलेक्टर अपने सीमावर्ती जिलों के कलेक्टर के साथ सतत संपर्क में रहें। समस्त व्यवस्थाएं सुचारू रहें, सुनिश्चित हो।

जहां जल भराव की स्थिति है, संबंधित अधिकारी वहां के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट करने की व्यवस्था करें। राहत स्थलों पर भोजन पानी और आश्रय की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। बाढ़ की स्थिति में आपात राहत के लिए सभी उपयोगी उपकरण और बचाव दल आदि पूरी तरह से तैयार रहें।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button