छत्तीसगढ़

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने अपनाये आयुर्वेदिक उपाय

आयुर्वेदिक अस्पतालों से नि:शुल्क ले सकते है त्रिकटु चूर्ण

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़

रायगढ़, 14 सितम्बर2020: जनसामान्य की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होने से वैश्विक महामारी कोविड-19 के संक्रमण से बचाव की संभावनाएं बढ़ जाती है। इसके लिये आयुर्वेदिक उपायों के अंतर्गत पूरे दिन में गर्म पानी पीना, प्रतिदिन कम से कम 30 मिनट योगासन, प्राणायाम एवं ध्यान करना, हल्दी, जीरा, धनिया एवं लहसून आदि मसालों का भोजन में प्रयोग करना, (तुलसी 40 ग्राम+काली मिर्च 20 ग्राम+सोंठ 20 ग्राम एवं दालचीनी 20 ग्राम) को सुखाकर पाउडर बनाकर हवा बंद डिब्बे मे बंद रख लें और 3 ग्राम पाउडर को 150 एमएल पानी में उबाल कर दिन में एक से दो बार सेवन करना अथवा त्रिकटु पाउडर 5 ग्राम, तुलसी 3 से 5 पत्तियां 01 लीटर पानी में डालकर उबालें, आधा शेष रहने पर पिये।

गोल्डन मिल्क-150 मिली गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी चूर्ण मिलाकर दिन में एक से दो बार लेना चाहिये। उक्त उपायों के पालन करने से रोक प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होगी। उक्त त्रिकटु चूर्ण आयुर्वेदिक अस्पतालों से नि:शुल्क प्राप्त किया जा सकता है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button