जो लोग सत्ता का इस्तेमाल ऐशो-आराम में करते हैं उनके लिए एंटी इन्कमबेंसी होती है: अमित शाह

अमित शाह ने एक बार भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर सराहना की। मौका था जी न्यूज के कॉन्क्लेव का, शाह ने ऐसे प्रधानमंत्री के सामने एंटी इन्कमबेंसी जैसी कोई चीज नहीं होती, एंटी इन्कमबेंसी उनके लिए होती है जो ऐशो-आराम से सत्ता चलाते हैं।

अमित शाह ने एक बार भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर सराहना की। मौका था जी न्यूज के कॉन्क्लेव का, शाह ने ऐसे प्रधानमंत्री के सामने एंटी इन्कमबेंसी जैसी कोई चीज नहीं होती, एंटी इन्कमबेंसी उनके लिए होती है जो ऐशो-आराम से सत्ता चलाते हैं।

इस पर जवाब देते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा-एंटी इन्कमबेंसी ऐसी बात हो गई है, जिसे हर कोई बोलने लगता है। तीन करोड़ गरीब महिलाएं को हमने सिलिंडर दिया, साढ़े सात करोड़ घरों को शौचलाय और नौ करोड़ लोगों को मुद्रा लोन दिया।

दरअसल अमित शाह से जी न्यूज के एंकर सुधीर चौधरी ने 2019 को लेकर सवाल पूछते हुए कहा था कि 2014 से पहले आप विपक्ष में थे, अब सत्ता में हैं, ऐसे में क्या आपको एंटी इन्कमबेंसी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

क्या इससे कोई अंतर नहीं आएगा। जो लोग सत्ता का इस्तेमाल ऐशो-आराम में करते हैं उनके लिए एंटी इन्कमबेंसी होती है। अमित शाह ने कहा कि विदेश दौरे विदेश दौरे पर भी उतना आराम कर पाते हैं, जितना हवाई जहाज में आराम पाते हैं। शाह ने कहा कि जब जनता देखती है तो उनके साथ जुड़ती है।

अमित शाह के बयान पर दीपक राज ने तंज कसते हुए कहा-20 घंटे मोदी जी क्या करते हैं, वे केवल मन की बात करते हैं काम की नहीं। अबबरार हुसैन ने लिखा-20 घंटे क्या काम करते हैं। मुझे तो एक भी काम नहीं दिख रहा है।

सुजीत पटेल ने कहा-सर वो सिर्फ आठगंटे काम करें बहुत अच्छा। राजर्षि ने लिखा-अच्छा एक बात समझ नहीं आई। सबसे भ्रष्ट यूपीए सरकार के दौरान कॉमनवेल्थ, 2G, कोयला जैसे सभी घोटालों में CBI ने केस दर्ज किए, नेताओं को गिरफ्तार किया और जेल भेजा लेकिन सबसे इमानदार एनडीए सरकार के कार्यकाल में उसी CBI के बावजूद सारे आरोपी बरी होकर छूट रहे हैं। विनोद सैनी ने कहा-इतना काम मत करवाया करो, चौकीदार को थोड़ा सोने भी दिया करो।

advt
Back to top button