छत्तीसगढ़

बाढ़ पीडि़तों के मुआवजा वितरण हेतु प्राथमिकता से करें सर्वे-कलेक्टर भीम सिंह

कलेक्टर सिंह ने निवास कार्यालय से विडियो कान्फ्रेसिंग के जरिये ली समय-सीमा की बैठक

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़

  • गिरदावरी के काम में लाये तेजी, अधिकारी मौके पर जाकर करें जांच

रायगढ़, 1 सितम्बर 2020: कलेक्टर भीम सिंह ने आज अपने निवास कार्यालय से अधिकारियों की समय-सीमा की बैठक ली। बैठक के दौरान उन्होंने चल रहे गिरदावरी कार्य की समीक्षा करते हुये राजस्व व कृषि विभाग के अधिकारियों को मौके पर जाकर गिरदावरी की जांच करने के निर्देश दिये। इस दौरान मिल रही कमी व त्रुटियों को सभी के साथ साझा करने के लिये कहा जिससे कार्य कर रहे दूसरे लोगों द्वारा वैसी गलती न हो।

पूर्ण हो चुके गिरदावरी कार्य की जानकारी को शीघ्र ऑनलाईन एन्ट्री करने तथा भुईयां सॉफ्टवेयर के अद्यतीकरण के निर्देश दिये। उप संचालक उद्यानिकी से तहसीलवार लगे उद्यानिकी फसलों की जानकारी सभी एसडीएम को उपलब्ध कराने को कहा।

कलेक्टर सिंह ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में मकानों व फसल के मुआवजा हेतु सर्वे कार्य को तेजी से त्रुटिरहित तरीके से पूरा करने के निर्देश राजस्व अमले को दिये। साथ ही इन क्षेत्रों में स्वास्थ्य कैम्प लगाने व कीचड़ तथा नमी वाली जगहों में ब्लीचिंग पावडर के छिड़काव हेतु निर्देशित किया। उन्होंने राहत शिविरों में रह रहे लोगों के रहने व खाने-पीने की समुचित व्यवस्था बनाये रखने हेतु विशेष ध्यान देने सभी प्रभारी अधिकारियों से कहा।

गोधन न्याय योजना का संचालन अब चिप्स के द्वारा निर्मित एप के माध्यम से

कलेक्टर सिंह ने बताया कि गोधन न्याय योजना का संचालन अब चिप्स के द्वारा निर्मित एप के माध्यम से होगा। जिसमें सभी सहभागियों जैसे विक्रेता, स्व-सहायता समूहों, क्रेता के लिये अलग मॉड्यूल बनाये गये है। उन्होंने सर्वसंबंधितों को इसका प्रशिक्षण देने हेतु निर्देशित किया। गोधन न्याय योजना के तहत पंजीकृत न हो पाये पशुपालकों का अभियान चलाकर पंजीयन करने के लिये कहा। योजना के तहत आगामी भुगतान के लिये समितियों के खातों में पर्याप्त धनराशि उपलब्ध रखने हेतु सभी सीईओ जनपदों को निर्देश दिये। उन्होंने जिले में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के गौठानों का निरीक्षण कर जहां जल भराव व कीचड़ की स्थिति है उसकी लैण्ड फिलिंग करने के निर्देश दिये। गौठानों में चारागाहों के लिये नेपियर घास रोपण की जानकारी उन्होंने ली।

कलेक्टर सिंह ने लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री को अंग्रेजी माध्यमिक स्कूल के भवन निर्माण की धीमी प्रगति पर असंतोष जाहिर करते हुये शीघ्र उसे प्रारंभ करने के लिये कहा। आदिवासी विकास विभाग को जिले में दो मॉडल आश्रम तैयार करने हेतु कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिये। बैठक के दौरान पशु क्रुरता अधिनियम पर भी चर्चा की गई। उप संचालक पशुपालन विभाग ने अधिनियम के उपबंधों को बताया और इससे जुड़े प्रकरणों पर संबंधित सक्षम प्राधिकारियों को कार्यवाही करने व जिला कमेटी को सूचित करने के लिये कहा।

इस बैठक में एडीएम राजेन्द्र कटारा, डीएफओ धरमजयगढ़ एस.मणिवासन, सीईओ जिला पंचायत  ऋचा प्रकाश चौधरी, डीएफओ रायगढ़ मनोज पाण्डेय, अपर कलेक्टर आर.ए. कुरूवंशी सहित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे। अन्य सभी एसडीएम, जनपद सीईओ व विभागीय अधिकारी अपने मुख्यालयों से वीडियो कान्फे्रेसिंग के माध्यम से बैठक में सम्मिलित हुये।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button