कक्षा 8वीं, 9वीं में पढ़ने वाले विद्यार्थियों हेतु उपचारात्मक शिक्षण व्यवस्था के तहत दिया जाएगा तीन चरणों में उपचारात्मक शिक्षण

- मनोज मिश्रा

महासमुंद: उच्च प्राथमिक में कक्षा 8वीं एवं हाई स्कूल में कक्षा 9वीं पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए उपचारात्मक शिक्षण व्यवस्था के लिए तीन चरणों में उपचारात्मक शिक्षण कार्य किया जाएगा। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि इसके लिए विषय हिन्दी, अंग्रेजी, गणित एवं विज्ञान में राज्य एवं जिला स्तरीय मास्टर टेªनर्स के रूप में कार्य करने हेतु कुशल शिक्षकांे एवं व्याख्याता का चयन किया जा रहा है।

राज्य स्तर पर प्रत्येक विषय हिन्दी, अंग्रेजी, गणित एवं विज्ञान में एक-एक (4 मास्टर टेªनर्स कक्षा 8 वीं के लिए एवं 4 मास्टर टेªनर्स कक्षा 9 वीं के लिए ) एवं जिला स्तर पर प्रत्येक विषय (हिन्दी, अंग्रेजी, गणित एवं विज्ञान) के लिए 4-4 ( 16 मास्टर टेªनर्स कक्षा 8 वीं के लिए एवं 16 मास्टर टेªनर्स कक्षा 9 वीं के लिए) इस प्रकार कुल 40 मास्टर टेनर्स की आवश्यकता होगी।

उन्होंने बताया कि कक्षा 8वीं एवं 9 वीं के लिए उपराचात्मक शिक्षण हेतु राज्य एवं जिला मास्टर टेªनर्स के रूप में कार्य करने हेतु आवेदन पत्र आमत्रित किया जा रहा है। राज्य एवं जिला स्तरीय कुशल प्रशिक्षकांें का चयन हेतु पाठ प्रदर्शन में 15 मिनट की एक कक्षा लेनी होगी एवं उनका इंटरव्यू भी लिया जाएगा।

इच्छुक शिक्षक, व्याख्याता कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी महासमुंद आरएमएस शाखा में 26 फरवरी 2019 को शाम 5 बजे तक आवेदन पत्र जमा करेगें। इस विषय में दिशा-निर्देश कार्यालय विकासखंड शिक्षा अधिकारी एवं विकासखंड स्त्रोत केन्द्र से प्राप्त कर सकते है।

Back to top button