क्रिकेटखेल

इन दो वजह से राजस्थान रॉयल्स ने बनाया स्टीव स्मिथ को कप्तान

नई दिल्ली : आईपीएल 2017 में पुणे सुपर जाएंट्स को फाइनल तक का सफ़र तय करवाने में ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ का खासा रोल रहा.

अब दो साल के बैन के बाद इंडियन प्रीमियर लीग में वापसी कर रही राजस्थान रॉयल्स ने स्टीव स्मिथ के कंधों पर अहम ज़िम्मेदारी दी है.

स्मिथ सीज़न 11 में आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स टीम के कप्तान होंगे. हालांकि, उनका मुकाबला दो-तीन खिलाड़ियों के साथ था. लेकिन पिछले साल के दो कमाल के चलते स्मिथ को मैनेजमेंट ने कप्तानी सौंपने का फैसला किया.

पहली बार एक टेलीविजन शो में किसी आईपीएल टीम ने अपने कप्तान के नाम का एलान किया है. लाइव शो में टीम के मेंटॉर के रूप में तय हो चुके पूर्व ऑस्ट्रेलियाई लीजेंड शेन वॉर्न ने स्मिथ के नाम का एलान किया.

साल 2008 में राजस्थान को चैंपियन बनाने वाले वॉर्न ने शो में टीम के बाकी उम्मीदवारों के नाम पर भी चर्चा की. कप्तान बनने के बाद स्मिथ ने कहा कि वह राजस्थान के लिए खेल चुके हैं और टीम का कप्तान बनने उनके लिए सम्मान की बात है.

बता दें कि आईपीएल में खिलाड़ियों को रिटेन करने के वक़्त राजस्थान ने सिर्फ स्मिथ को 12 करोड़ में रिटेन किया था और बाक़ी के खिलाड़ियों को ऑक्शन में खरीदा था.

स्मिथ 2014 सीजन में भी राजस्थान के लिए खेल चुके हैं. इस सीजन में वह 10 मैचों में 147 रन ही जोड़ सके थे.

साल 2015 सीजन उन्होंने राजस्थान की कप्तानी भी की और टीम को प्ले ऑफ में पहुंचाने में कामयाब रहे.

स्मिथ ने पिछले सीजन पुणे के लिए बल्लेबाज़ी और कप्तानी दोनों में कमाल किया था. महेंद्र सिह धोनी की जगह स्मिथ की कप्तानी की जिम्मेदारी मिली थी.

स्मिथ ने पुणे के लिए खेलते हुए पिछले साल दो कमाल किए. पहला तो उन्होंने 15 मैचों में 472 रन बनाए. और दूसरा उन्होंने अपनी कप्तानी में टीम को फाइनल में पहुंचाया. हालांकि, वह पुणे को चैंपियन बनाने से चूक गए.

फाइनल में मुंबई से एक रन से उनकी टीम को हार मिली. लेकिन इन्हीं दो बातों से राजस्थान रॉयल्स प्रबंधन बहुत ज्यादा प्रभावित हुआ.

एक खिलाड़ी के तौर पर स्मिथ ने आईपीएल के 69 मैचों में एक शतक और 5 अर्द्धशतकों से 1703 रन बनाए हैं. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 131.70 का रहा है।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *