विदेशी कपल ने रेमडेसिविर इंजेक्शन के नाम पर लगाया लाखों रुपये का चूना

लिस ने एक पीड़िता की शिकायत पर आरोपी विदेशी महिला को गिरफ्तार कर लिया

नई दिल्ली:दिल्ली में पुलिस ने एक पीड़िता की शिकायत पर उस आरोपी विदेशी महिला को गिरफ्तार किया जिन्होंने तीन दर्जन से ज्यादा लोगों को रेमडेसिविर इंजेक्शन के नाम पर लाखों रुपये का चूना लगाया. उसका बॉयफ्रेंड मौके से फरार हो गया.

मामला दिल्ली के शाहबाद डेयरी थाना इलाके का है. जहां राखी गुप्ता नामक एक महिला ने पुलिस को शिकायत देते हुए बताया कि उनके रिश्तेदार को कोरोना हुआ था. उन्हें रेमडेसिविर इंजेक्शन की जरूरत थी.

इसी दौरान राखी ने सोशल मीडिया पर सर्च किया तो उन्हें एक मोबाइल नंबर 9059756782 मिला . राखी ने जब इस नंबर पर कॉन्टैक्ट किया तो उससे प्रिस्क्रिप्शन मांगा गया और रेमडेसिविर इंजेक्शन की प्रति वॉयल के लिए 5 हजार रुपये की डिमांड की गई.

राखी गुप्ता उन लोगों को 5 हजार देने को तैयार हो गई. राखी ने इंडियन बैंक के एक अकाउंट में 25 हजार रुपये ट्रांसफर भी कर दिए. इंडियन बैंक के जिस अकाउंट में पैसे ट्रांसफर किए गए, वो ग्लोबल सप्लायर्स नाम के नाम से था. राखी ने पैसे ट्रांसफर किए लेकिन उसे इंजेक्शन नहीं मिला. लिहाजा रखी ने दिल्ली पुलिस को शिकायत दी. पुलिस ने उनकी तहरीर पर एफआईआर दर्ज कर ली.

फिर शुरू हुआ पुलिस की जांच का सिलसिला. राखी गुप्ता ने जो मोबाइल नम्बर दिया था, पुलिस ने उसे सर्विलांस पर लगा दिया. साथ ही मुखबिरों को अलर्ट किया गया. इसके कुछ घंटे बाद पुलिस खानपुर देवली इलाके के एक फ्लैट पर पहुंची, जहां से वो फोन नंबर एक्टिव था. पुलिस ने फ्लैट में छापा मारकर अश्विनगवो अशेलली नामक विदेशी महिला को गिरफ्तार कर लिया. जबकि उसका बॉयफ्रेंड एलुमारा क्रिस्टियन मौके पर नहीं मिला.

पुलिस की जांच में पता चला कि कोरोना कॉल में दोनों गर्लफ्रैंड और बॉयफ्रेंड मिलकर लोगों को रेमडेसिविर के नाम पर ठग रहे हैं. दोनों ने सोशल मीडिया पर ग्लोबल सप्लायर्स, नियर गवर्मेन्ट प्राइमरी स्कूल, बादली, दिल्ली का एड्रेस डाला हुआ था. साथ ही मोबाइल नम्बर भी दिया था. ये खुद को रेमडेसिविर इंजेक्शन के सप्लायर बताते थे. जब इनसे कोई इंजेक्शन के लिए कॉन्टेक्ट करता तो एडवांस पैसों की डिमांड करते और पैसे लेने के बाद ये पीड़ित का नम्बर ब्लॉक कर देते थे.

पुलिस को जांच में पता चला है कि दोनों ने मिलकर अब तक 40 लोगों के साथ ठगी की है. जिनमें से 23 पीडितों की पहचान पुलिस ने कर ली है. पुलिस ने आरोपी के पास से 10 सिम कार्ड, 5 मोबाइल फोन और 2 एयरटेल वाई-फाई हॉटस्पॉट बरामद किए हैं. पुलिस गिरफ्तार की गई महिला से पूछताछ कर रही है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button