राष्ट्रीय

महिलाओं से ठगी करने वाला विदेशी नटवरलाल गिरफ्तार

फेसबुक के जरिए ढूंढ़ता था शिकार

उत्तरप्रदेश: यूपी एसटीएफ ने एक ऐसे विदेशी नटवरलाल को गिरफ्तार किया है. जो फेसबुक पर हैंडसम स्मार्ट युवकों की तस्वीरें लगाकर महिलाओं से दोस्ती करता था. फिर उन महिलाओं को अपनी मोहब्बत के जाल में फंसाकर उन्हें ठग लेता था. पकड़ा गया शातिर ठग एक नाइजीरियन है.

अफ्रीकी मूल के नाइजीरियन मार्क पौवेल उर्फ मोरेल ने हैंडसम लड़का बनकर महिलाओं से ना केवल दोस्ती की बल्कि उन्हें लाखों का चूना भी लगाया. यूपी एसटीएफ के साइबर क्राइम हेड त्रिवेणी सिंह ने बताया कि ये शख्स फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर लोगों से राष्ट्रीय स्तर पर ठगी करने वाले नाइजीरियन गैंग का खास खिलाड़ी है.

एसटीएफ ने उसके पास से लैपटॉप मोबाइल फोन और दो सिम कार्ड बरामद किया. मोरेल अफ्रीका के स्ट्रीट बेनिटो स्टेट का रहने वाला है आरोपी यहाँ दिल्ली में विश्वकर्मा कॉलोनी बदरपुर में रहता था. दरअसल मार्च 2017 में बेंगलुरु के थाना बेलदूरू में सुजाता नाम की एक महिला ने मुकदमा दर्ज कराया था कि मार्क पौवेल से उसकी मुलाकात मैट्रिमोनियल वेबसाइट पर हुई थी. उसने महिला को बताया कि वह नार्वे की एक पेट्रोलियम कंपनी में काम करता है और वह भारत आ रहा है.

आरोपी ने महिला से कस्टम क्लीयरेंस और डॉलर क्लीयरेंस के नाम पर करीब साढ़े 5 लाख रूपये ठग लिए. पुलिस को जांच में पता लगा कि जिस बैंक खाते में पैसे डाले गए थे, वो गाजियाबाद का है. पुलिस के मुखबिर ने सूचना दी की मार्क पौवेल को दिल्ली में अपने साथी से मिलने आने वाला है. सूचना के आधार पर पुलिस ने जाल बिछाकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.

गिरफ्तार आरोपी ने खुलासा किया कि ये लोग ज्यादातर अकाउंट नॉर्थ. ईस्ट के लोगों के नाम पर लेते हैं. क्योंकि उनके नाम विदेशियों से मिलते जुलते हैं. इसलिए उन पर कोई शक नहीं करता. उसने बताया कि 10 प्रतिशत कमीशन वो अकाउंट वाले को देते हैं और चेहरा छिपाकर एटीएम से सारा पैसा निकाल लेते हैं. और बताया की ये लोग फेसबुक के जरिए ही शिकार ढूंढ़ते हैं. पुलिस को ये भी पता लगा है कि इस अफ्रीकन नेटवर्क में कई भारतीय लड़कियां भी शामिल हैं जो कमीशन बेस पर रखी गई हैं.

Summary
Review Date
Reviewed Item
महिलाओं से ठगी करने वाला विदेशी नटवरलाल गिरफ्तार
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.