छत्तीसगढ़राजनीति

तरेगांव जंगल को उपतहसील की सौगात दी वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने

10 पटवारी हल्के,25 ग्राम पंचायतें सहित 88 ग्रामों को मिलेगा फायदा

हिमांशु सिंह ठाकुर ब्यूरो की रिपोर्ट
कवर्धा: राज्य शासन ने कबीरधाम जिले के बैगा आदिवासी बाहूल बोड़ला अनुविभाग(राजस्व) में निवासरत अति पिछड़ी बैगा जनजाति एवं वनांचलों में रहने वाले जनसामान्य की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए तरेगांव (जंगल) को उपतहसील कार्यालय का दर्जा दिया है।

प्रदेश के वन,पर्यावरण, आवास एवं परिवहन मंत्री तथा कवर्धा विधायक मोहम्मद अकबर ने मंगलवार को तरेगांव (जंगल) को उपतहसील कार्यालय का विधिवत शुभारंभ किया। उन्होंने आम जनता को संबोधित करते हुए कहा कि तरेगांव जंगल एवं आसपास के ग्रामवासी अपने छोटे-छोट राजस्व प्रकरण के लिए अब बोड़ला तहसील नहीं जाना पड़ेगा।

अब तरेगांव जंगल में उपतहसील कार्यालय का शुभारंभ होने से नामांतरण, बटवारा, सीमांकन, फौती कटवाना, जाति-निवास इत्यादि कार्य अब इसी कार्यालय में बन जायेगा।

वनमंत्री अकबर ने अपने उद्बोधान में कहा कि वनांचल क्षेत्र तरेगांव एवं आसपास के क्षेत्र के लिए यह बड़ी सौगात है। क्षेत्र के आम आदमी छोटे-छोटे राजस्व कार्य के लिए बोड़ला जाना पड़ता था, जिससे दिन भर का समय बोड़ला में गुजारना पड़ता था, परन्तु अब यहां उपतहसील का शुभारंभ होने से सभी राजस्व कार्य यहीं से संचालित होंगे।

बैगा बाहुल्य क्षेत्र तरेगांव जंगल की बहुप्रशिक्षित मांग पूरी हुई है। उन्होंने कहा कि ब्लॉक स्तर का काम ब्लॉक स्तर पर निपटे एवं जिला स्तर का काम जिला में निपटे। लोगों को समय एवं धन की बर्बादी नहीं हो। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार ने उपतहसील बनाने के लिए कोई पहल नहीं किया,परन्तु हमारी सरकार के मुख्यमंत्री बनते ही मात्र 11 महीने में ही क्षेत्र की जनता को यह बड़ी सौगात मिली है।

उन्होंने कहा कि यह चुनावी वायदा नहीं था, लोगों की मांग के अनुरूप कम समय में यह उपतहसील का निर्माण कराया गया, उपतहसील शुभारंभ अवसर पर नायब तहसीलदार की पदस्थापना भी कर दी गई है, जिससे क्षेत्र का राजस्व कार्य समय पर पूर्ण हो सके। मंत्री अकबर ने कहा कि सरकार आदिवासी समाज के उत्थान के लिए प्रतिबद्ध है।

इसी कड़ी में लोहांडीगुड़ा में टाटा कंपनी द्वारा पांच हजार एकड़ कृषि भूमि को आदिवासी समाज को लौटाई गई साथ ही सरकार बनने के बाद 83 गांवों को जमीन खरीदी बिक्री को हटाया गया। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में जो भी समस्या होगी, उसे सरकार पूरी ईमानदारी से करेगी।

कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने कहा कि तरेगांव जंगल क्षेत्र के लिए यह खुशी की बात है कि मंत्री के निर्देशानुसार यह उपतहसील कार्यालय को जल्द से जल्द निर्माण कराया गया।

क्षेत्र की जनता की यह मुख्य मांग रही है, जो आज मंत्री जी के हाथों शुभारंभ हो रहा है। उन्होंने कहा कि किसी भी राजस्व प्रकरण से संबंधित कार्य यहीं पा संपादित होंगे।

उन्होंने बताया कि तरेगांव जंगल उपतहसील कार्यालय के अंतर्गत 10 पटवारी हल्के, 25 ग्राम पंचायतें सहित 88 गांव को प्रत्यक्ष लाभ मिलेगा। क्षेत्र की समस्या का हल करने में मंत्री जी का हमेशा पहल रहता है।

इस अवसर पर पितांबर वर्मा,अजमत खान,नरेन्द्र चंद्रवंशी,अयुब खान सहित पुलिस अधीक्षक डॉ.लाल उमेंद सिंह, जिला पंचायत के सीईओ कुंदन कुमार, वन मंडलाधिकारी दिलराज प्रभाकर सहित क्षेत्र के सरपंच,पंच तथा ग्रामीणजन बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Tags
Back to top button