राजनीतिराष्ट्रीय

पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता शिवाजीराव पाटील निलंगेकर का निधन

3 जून 1985 से 6 मार्च 1986 तक महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री थे शिवाजीराव

मुंबई: 3 जून 1985 से 6 मार्च 1986 तक महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रहे 88 वर्षीय कांग्रेसी नेता शिवाजीराव पाटील निलंगेकर ने पुणे में आखिरी सांस ली. कुछ दिनों से खराब तबियत के चलते 88 वर्षीय शिवाजीराव पाटील निलंगेकर का निधन हो गया.

शिवाजीराव पाटील निलंगेकर को पिछले दिनों सांस लेने में तकलीफ के बाद हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था. इसके बाद उनका कोरोना टेस्ट कराया गया था, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. तब से वह हॉस्पिटल में भर्ती थे. हालांकि, दो दिन पहले उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई थी. अभी मौत के कारण का पता नहीं चल पाया है.

शिवाजीराव पाटील निलंगेकर बड़े कांग्रेसी नेता थे और वह 3 जून 1985 से 6 मार्च 1986 के बीच मुख्यमंत्री रहे थे. एमडी की परीक्षाओं में बेटी के अंक को लेकर हुए फर्जीवाड़े के बाद बॉम्बे हाईकोर्ट ने शिवाजीराव पाटील निलंगेकर के खिलाफ सख्त फैसला सुनाया था. इसके बाद शिवाजीराव पाटील निलंगेकर ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था.

शिवाजीराव पाटील निलंगेकर ने 1968 में महाराष्ट्र एजुकेशन ट्रस्ट की स्थापना की थी. अपने एजुकेशन सोसायटी के तहत उन्होंने चार कॉलेजों, 12 उच्चतर माध्यमिक स्कूलों और 15 प्राथमिक स्कूलों की स्थापना की थी. महाराष्ट्र फार्मेसी कॉलेज, निलंगा को 1984 में स्थापित किया गया था. शिवाजीराव पाटील निलंगेकर का जन्म निलंगा में हुआ था.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button