पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह द्वारा फर्जी टूलकिट को मेनिपुल्टेड मीडिया बताया डॉ रमन की संघी साजिश काम नही आई- संदीप दुबे

डॉ रमन सिंह के खिलाफ फर्जी कूटरचना की भी धारा जोड़कर शीघ्र गिरफ्तार किया जाए।

बिलासपुर : आज ट्वीटर ने भी पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह द्वारा पिछले दिनों ट्वीट किए है मेनिपुल्टेड मतलब जालसाज दस्तावेज घोषित किया, प्रदेश कांग्रेस विधि के अध्यक्ष संदीप दुबे ने बताया कि पिछले दिनों बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, संबित पात्रा ,केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने एक फर्जी दस्तावेज जिसे भाजपा और ऐसे अन्य व्यक्तियों को अखिल भारतीय कांग्रेस के लेटरहेड को जाली बनाने और उसके बाद उस पर झूठी और मनगढ़ंत सामग्री छापने के लिए,

अपने सत्यापित ट्विटर हैंडल और अन्य सामाजिक से जाली / भाजपा निर्मित दस्तावेज़ साझा करने के लिए मीडिया प्लेटफॉर्म, व्यक्तियों के बीच देश में सांप्रदायिक विद्वेष और नागरिक अशांति पैदा करने, हिंसा को बढ़ाने, नफरत को हवा देने और फर्जी खबरें फैलाने के इरादे से ट्विटर में ट्वीट किया था,जिसको लेकर प्रदेश में कई जगह थानों में प्रथम सूचना रिपोर्ट की गई थी,

जिसमें रायपुर पुलिस ने डॉ रमन सिंह सहित कई बीजेपी नेताओं के खिलाफ प्रथम सूचना दर्ज कर रिपोर्ट की गई थी जिस पर पुलिस द्वारा कारवाही की जा रही है। उसी ट्वीट को आज ट्विटर हैंडल में जालसाजी दस्तावेज मीडिया घोषित किया है। इससे साबित होता है कि बीजेपी इस भयानक कोरोना संक्रमण में भी छल कपट करने से बाज नही आ रही है। संदीप दुबे ने बताया कि इसमें पुलिस को अब भारतीय दंड सहिंता की 420, 467 सहित अन्य अपराध जोड़कर शीघ्र अपराधियों को गिरफ्तार किया जाए।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button