छत्तीसगढ़

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने किया बाघ नदी बॉर्डर का दौरा

प्रवासी मजदूरों की हालत देख कार्यकर्ताओं को दिया सेवा का निर्देश

राजनांदगाँव।भारतीय जनता पार्टी के नेता और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एक्स सीएम डॉ रमन सिंह अध्यक्ष ने भाजपा पदाधिकारियों की बैठक ली. बैठक में प्रमुख रूप से सांसद संतोष पांडे, पूर्व सांसद अभिषेक सिंह, जिलाध्यक्ष मधुसूदन यादव, वरिष्ठ भाजपा नेता लीलाराम भोजवानी, खूबचंद पारस, अशोक शर्मा संतोष अग्रवाल सुरेश डुलानी, रजिंदर पाल भाटिया, सचिन बघेल, नीलू शर्मा, विक्रांत सिंह, भरत वर्मा, कोमल सिंह राजपूत, शोभा सोनी, गीता घासी साहू, विनोद खांडेकर, प्रदीप गांधी, खेदूराम साहू, दिनेश गांधी, अशोक चौधरी, सावन वर्मा , हीरेंद्र साहू, तरुण लहरवानी, अतुल रायजादा, अरुण शुक्ला, रघुवीर वादवा सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे.

रमन सिंह ने कहा कि हजारों की संख्या में मजदूर पैदल चले आ रहे हैं, सरकार के पास उनके लिए कोई भी कार्य योजना नहीं है, होना तो यह चाहिए था कि सरकार सभी राज्यों के प्रतिनिधियों से बातचीत कर ट्रेनों के माध्यम से कार्य योजना बनाकर मजदूरों को सम्मान से लाने की पहल करनी थी.

डॉ सिंह ने बताया कि गुजरात एवं उत्तरप्रदेश सरकार ने मजदूरों को सैकड़ों ट्रेनों के माध्यम से लाया और आगे भी लाने की तैयारी की है परंतु एकमात्र छत्तीसगढ़ की सरकार है जिन्होंने मजदूरों के लिए कोई कार्ययोजना नहीं बनाई जिसके कारण बेचैन होकर मजदूर पैदल चलने पर विवश हो चुके हैं.

बसों की व्यवस्था

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बॉर्डर पर मुझे बताया गया कि मेरे आने के कारण ही बसों की व्यवस्था की गई है. उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि संस्कारधानी नगरी से जो मजदूर अन्य प्रदेशों में जा रहे हैं उनकी सेवा अच्छी भावना से भाजपा कार्यकर्ताओं को करनी चाहिए. रमन सिंह ने जैसे ही यह कहा 20 मिनट के अंदर उपस्थित कार्यकर्ताओं ने 7 लाख रुपये देने की तत्काल घोषणा की.

मीडिया सेल द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार दिनांक 20 मई से राम दरबार से जाने वाले सभी मजदूरों को खाद्यान्न सामग्री का एक थैला भाजपा द्वारा वितरण किया जाएगा. जिसमें तत्काल खाने योग्य सूखे पदार्थ इलेक्ट्रॉल, फल फ्रूट एवं चना मुर्रा , ग्लूकोस बिस्किट इत्यादि की व्यवस्था होगी.

Tags
Back to top button