कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दोषी न होने की दलील दी

इस मामलें की सुनवाई के लिए 10 दिसंबर की तारीख मुकर्रर

सूरत:कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दोषी न होने की दलील दी। सूरत के सेशन कोर्ट में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट बी एच कपाड़िया की अदालत में यह पूछे जाने पर कि क्या वह आरोप स्वीकार करते हैं, इस पर राहुल ने कहा मैंने कुछ गलत नहीं किया है।

इधर कोर्ट में राहुल गांधी की तरफ से उनके वकीलों ने अगली सुनवाई में व्यक्तिगत उपस्थिति से स्थायी छूट की मांग करते हुए एक आवेदन भी दिया है। हालंकि दूसरे पक्ष के वकीलों ने छूट याचिका पर आपत्ति जताई, जिसके बाद अदालत ने 10 दिसंबर इस मामलें की अगली सुनवाई की तारीख मुकर्रर कर दी।

साथ ही अदालत ने कहा कि राहुल गांधी को अगली सुनवाई के दौरान मौजूद रहने की आवश्यकता नहीं है। जुलाई में अंतिम सुनवाई के दौरान, अदालत ने गांधी को उस सुनवाई के लिए व्यक्तिगत उपस्थिति से छूट दी थी और सुनवाई की अगली तारीख 10 अक्टूबर तय की थी।

अपनी शिकायत में, भाजपा विधायक बीजेपी विधायक पूर्णेश मोदी ने आरोप लगाया था कि इस साल लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस नेता ने अपनी टिप्पणी के साथ पूरे मोदी समुदाय को बदनाम कर दिया था।

अदालत ने मुकदमा स्वीकार करते हुए यह माना था कि वायनाड से लोकसभा सदस्य के खिलाफ आपराधिक मानहानि का एक मुकदमा चल रहा था। 13 अप्रैल को कर्नाटक के कोलार में एक अभियान रैली में राहुल गांधी ने नीरव मोदी, ललित मोदी, नरेंद्र मोदी के नाम को जोड़ते हुए एक विवादित बयान दिया था।

advt
Back to top button