पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को सूरत जाकर अदालत में होना पड़ेगा पेश

आपराधिक मानहानि मामले में अंतिम बयान दर्ज कराने के लिए होंगे पेश

गांधीनगर:अवमानना मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज गुजरात में मजिस्ट्रेट की अदालत के समक्ष पेश हो सकते हैं. वह ‘मोदी उपनाम’ को लेकर की गई टिप्पणी में गुजरात के एक विधायक द्वारा दायर आपराधिक मानहानि मामले में अंतिम बयान दर्ज कराने के लिए पेश होंगे.

सूरत के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ए एन दवे ने एक हफ्ते पहले राहुल गांधी को निर्देश दिया था कि सूरत से भाजपा विधायक पूर्णेश मोदी द्वारा दर्ज कराए गए अवमानना मामले में अंतिम बयान दर्ज कराने के लिए 24 जून को मौजूद रहें.

राहुल गांधी के खिलाफ सूरत के एक विधायक द्वारा एक मामला दायर किया गया था. यह मामला राहुल की 2019 की चुनावी रैली में कथित टिप्पणी- “सभी चोरों का उपनाम मोदी क्यों होता है” से जुड़ा है. सूरत-पश्चिम से भाजपा विधायक पूर्णेश मोदी ने यह मामला दर्ज करवाया था.

गुजरात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अमित चावड़ा ने कहा कि राहुल गुरुवार को सूरत का दौरा करेंगे. अमित चावड़ा ने कहा, राहुल गांधी सुबह करीब 10 बजे सूरत में होंगे और दोपहर करीब 12 से 12:30 बजे शहर से निकल जाएंगे. उनकी यात्रा में इसके बारे में कुछ भी राजनीतिक नहीं है, बल्कि यह केवल उनकी अदालत में पेशी से संबंधित है.

13 अप्रैल, 2019 को कर्नाटक के कोलार में एक लोकसभा चुनाव रैली में, राहुल ने कहा था- “नीरव मोदी, ललित मोदी, नरेंद्र मोदी.. आखिर इन सभी का उपनाम मोदी क्यों है? सभी चोरों का उपनाम मोदी क्यों होता है?” इसके बाद अपनी शिकायत में पूर्णेश मोदी ने कहा था कि कांग्रेस नेता ने अपनी इस टिप्पणी से पूरे मोदी समुदाय का अपमान किया है.

विधायक पूर्णेश मोदी ने एक स्थानीय अदालत में राहुल के खिलाफ मानहानि का मामला दायर किया था. आईपीसी की धारा 499 और 500 के उल्लंघन पर मामला दर्ज किया गया था.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button