छत्तीसगढ़

पुलिस बल की भारी तैनाती के साथ पूर्व विधायक अमित जोगी को किया गया गिरफ्तार

मनीष शर्मा:

बिलासपुर: छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व विधायक अमित जोगी को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के आला अधिकारियों की मौजूदगी में सुबह करीब 9:30 बजे के आसपास पुलिस उनकी गिरफ्तारी की गई। इसके पहले मरवाही सदन के आसपास भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। खबर मिलने ही उनकी पार्टी के तमाम लोग बंगले में पहुंच गए हैं।

पुलिस बल मरवाही सदन के सामने तैनात

मिली जानकारी के मुताबिक सुबह करीब 9:00 बजे के आसपास अमित जोगी ने सोशल मीडिया पर यह जानकारी दी कि पुलिस उनके घर पहुंच चुकी है। जिससे माना जा रहा था कि किसी भी समय उनकी गिरफ्तारी हो सकती है। मंगलवार की सुबह बड़े पैमाने पर पुलिस बल मरवाही सदन के सामने तैनात किया गया था।

बंगले के बाहर भी पुलिस बल तैनात

जिसमें जिला पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल सहित एडिशनल एसपी और बिलासपुर शहर के सभी थानों के टी आई मौजूद थे। बंगले के बाहर भी पुलिस बल तैनात किया गया था। शुरुआत में एसपी और अन्य अधिकारी बंगले के भीतर दाखिल हुए। जहां अमित जोगी मौजूद थे। पहले करीब आधे घंटे उनके बीच बंद कमरे में बातचीत हुई। तब तक किसी को भीतर जाने नहीं दिया गया था।

नेता संवर्ग लहरें और विक्रांत तिवारी मौजूद

बंगले के बाहर जोगी कांग्रेस के नेता संवर्ग लहरें और विक्रांत तिवारी मौजूद हैं इस बीच खबर आई कि जोगी कांग्रेस से जुड़े समीर अहमद को गिरफ्तार किया गया है। इसके बाद सुबह करीब 9:30 बजे के आसपास अमित जोगी की गिरफ्तारी की गई है।

अमित जोगी के खिलाफ गौरेला थाने में पहले से एक मामला दर्ज है। जिसे लेकर बीजेपी की समीरा पैकरा सोमवार को बड़ी संख्या में इलाके के लोगों के साथ पहुंची थी। जहां उन्होंने जिला पुलिस कप्तान को ज्ञापन सौंपकर अमित जोगी की गिरफ्तारी की मांग की थी।

उनका कहना था कि अमित जोगी के जन्म स्थान को लेकर दो अलग शपथ पत्र देकर अलग अलग जगह बताते हुए धोखाधड़ी की है। जिस पर उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। लेकिन अब तक गिरफ्तारी नहीं हुई है। समझा जा रहा है कि समीरा पैकरा की ओर से किए गए प्रदर्शन के बाद पुलिस ने अमित जोगी की गिरफ्तारी की है।

फिलहाल इस संबंध में पुलिस की ओर से कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है। लेकिन माना जाए तो अमित जोगी को गिरफ्तारी के बाद गौरेला ले जाया गया है।जहां थाने में उनके खिलाफ प्रमाण पत्र को लेकर मामला दर्ज है। उनके खिलाफ नागरिकता के संबंध में गलत जानकारी देने का आरोप लगाया गया है। जिस समय अमित जोगी की गिरफ्तारी की गई गौरेला के एडिशनल एसपी भी मौजूद थे। बताया जा रहा है कि उन्हें गिरफ्तारी के बाद गौरेला कोर्ट में पेश किया जा सकता है ।

जैसे ही अमित जोगी को बंगले से बाहर निकाल कर गिरफ्तारी के बाद पुलिस की गाड़ी में बिठाया गया उन्होंने हाथ दिखा कर अपने कार्यकर्ताओं का अभिवादन किया।

Tags
Back to top button