छत्तीसगढ़

हुनर के बलबूते पाया मुकाम : एलिना डेविड मसीह

हुनर के बलबूते पाया मुकाम : एलिना डेविड मसीह

रायपुर : महज 9 वर्ष की उम्र से फिल्मी दहलीज़ पर पैर रखने वाली एलिना डेविड मसीह ना केवल आज छालीवुड में स्थापित हो चुकी हैं बल्कि वे अपने खुद के एडम फिल्म्स इंटरटेनमेंट प्रोड्क्शन के बैनर तले ‘सांवरिया’ नामक एल्बम भी रिलीज़ करने वाली है। जिसका पोस्ट प्रोडक्शन का कार्य चल रहा है। एल्बम के 4 गाने शूट किये जा चुके है, कुल 5 गानों में अंतिम गाने की शूटिंग जल्द ही अमरकंटक के शानदार लोकेशन में किया जाना है। जिसके लिरिक्स राईटर व वाइस ऑफ कोरबा के मशहूर सिंगर अस्वनी है।

एलिना बताती है कि छोटी उम्र में ही उसे रामोजी राव फिल्म सिटी से जुड़ने का अवसर मिला जहां वह लगातार 5 सालो से जुड़ी रही, फिर उनके गुरु बास्को ने एलिना की प्रतिभा को आंकते हुए उसे छत्तीसगढ़ी फिल्म में एक्टिंग करने की सलाह दी। जिसे वह मान गई और आज विगत 16 साल से छालीवुड से जुड़ी एलिना दर्जनों फिल्म व अनेक एल्बम कर चुकी है।

लब्बो-लुवाब यह कि आज एलिना छलिवुड के लिए अंजाना नाम नही रही। एलिना म्यूजिक डांस ग्रुप चलाने के साथ ही अपने प्रोडक्शन के बैनर तले इवेंट शो भी करती है। छालीवुड के अलावा हिन्दी,भोजपुरी व दिगर भाषाओ की फिल्मे भी एलिना कर चुकी है। जिनमे कई फिल्मों में लीड रोल में वे नज़र आती है। एलिना बताती है कि अपने प्रोडक्शन के माध्यम से टैलेंट को सही मुकाम देने म्यूजिकल इवेंट शो व डांस ग्रुप भी चलाती है। जिसमे नई प्रतिभाओ को भी अवसर दिया जाता है।

2012 में अपनी पहली फिल्म छलिया से छालीवुड में डेब्यू करने वाली एलिना दर्जनों फिल्मे करने के बाद भी अपने लिए उसे ड्रीम रोल का इंतज़ार है। वह कहती है कि कलाकार का हुनर ही उसे मुकाम देता है, उसने भी मेहनत और अपने हुनर के दम पर यहांतक पहुंची है, जहां से और आगे जाने का मार्ग प्रसस्त होता है। उनका मानना है कि कलाकार कभी संतुष्ट नही हो सकता उसे अपने श्रेष्ठ की तलाश हमेशा रहता है।
ताज़ा हिंदी खबरों के साथ अपने आप को अपडेट रखिये, और हमसे जुड़िये फेसबुक और ट्विटर के ज़रिये

Summary
Review Date
Reviewed Item
हुनर के बलबूते पाया मुकाम : एलिना डेविड मसीह
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags