खेल

भारत के वुशु स्पर्धा में चार पदक पक्के

नाओरेम रोशिबिनी देवी आज सबसे पहले सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रही।

जकार्ता: 18वें एशियाई खेलों के तीसरे दिन मंगलवार को वुशु की सांडा स्पर्धा में यहां चार पदक पक्के किए जब एक को छोड़कर उसके सभी खिलाड़ी सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रहे।

पांच भारतीय सेंडा स्पर्धा के विभिन्न वर्ग में चुनौती पेश करने उतरे और उनमें से चार ने जीत के साथ पदक पक्का किया। वुशु में सेमीफाइनल में हारने वाले खिलाड़ी को भी कांस्य पदक मिलता है। सभी सेमीफाइनल आज होंगे। नाओरेम रोशिबिनी देवी आज सबसे पहले सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रही।

उन्होंने महिला सेंडा 60 किग्रा क्वार्टर फाइनल में पाकिस्तान की मुबाशरा को 2-0 से हराया। वह सेमीफाइनल में चीन की काइ यिंगयिंग से भिड़ेंगी। संतोष कुमार ने इसके बाद पुरुष सेंडा 56 किग्रा वर्ग में थाईलैंड के फिथाक पाओक्राथोक को कड़े क्वार्टर फाइनल में 2-1 से हराकर अंतिम चार में जगह बनाई।

वह सेमीफाइनल में वियतनाम के ट्रुओंग जियांग बुई से भिड़ेंगे। सूर्य भानु प्रताप सिंह ने फिलीपीन्स के यीन क्लाड सकलाग को 60 किग्रा वर्ग में 2-0 से हराकर पदक पक्का किया।

वह अगले दौर में ईरान के इरफान अहनगारियान से भिड़ेंगे। पदक पक्का करने वाले चौथे भारतीय नरेंदर ग्रेवाल रहे जिन्होंने 65 किग्रा वर्ग क्वार्टर फाइनल में उज्बेकिस्तान के अकमल राखिमोव को 2-0 से हराया।

सेमीफाइनल में ईरान के सेम फोरोद जफारी के खिलाफ खेलेंगे। क्वार्टर फाइनल में हारने वाले एकमात्र भारतीय प्रदीप कुमार रहे जिन्हें पुरुष सेंडा 70 किग्रा वर्ग में इंडोनेशिया के पूजा रियाया के खिलाफ 1-2 से हार का सामना करना पड़ा।

Tags
Back to top button