भारतीय लोकतंत्र में मताधिकार एक महत्वपूर्ण अधिकार : न्यायाधीश मधु तिवारी

हितेस दीक्षित:

गरियाबंद: राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर आज भावी और नये मतदाताओं को मतदान के महत्व के बारे में अवगत कराने जिले में विविध कार्यक्रम आयोजित किये गये। मतदाताओं को मतदान प्रक्रिया समझाने चित्रकला, भाषण, निबंध, रंगोली प्रतियोगिताओं के माध्यम से अवगत कराया गया तथा नये मतदाताओं को ईपिक कार्ड का वितरण भी किया गया।

इस अवसर पर वन विभाग के आक्सन हाल में आयोजित कार्यक्रम में विधानसभा निर्वाचन में उत्कृष्ट कार्य करने वाले बी.एल.ओ एवं कर्मचारियों को सम्मानित किया गया। साथ ही अपने मताधिकार का प्रयोग करने शपथ ली गई। कार्यक्रम में नगर पालिका गरियाबंद के अध्यक्ष मिलेश्वरी साहू, जिला पंचायत सीईओ आर.के. खुंटे, अपर कलेक्टर के.के. बेहार भी मौजूद थे।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश मधु तिवारी ने कार्यक्रम में भावी और युवा मतदाताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि लोग जागरूक होकर अपने मताधिकार का प्रयोग करें जिससे चुने हुए जनप्रतिनिधि देश के लिए बेहतर कार्य कर सके। उन्होंने कहा कि भारतीय लोकतंत्र में आम नागरिकों को अधिकार व कर्तव्य दोनो दिये गये हैं। उनमें से मताधिकार एक महत्वपूर्ण अधिकार है जिसका उपयोग करना आवश्यक है।

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्याम धावडे़ ने कहा कि जागरूक मतदाता से ही जागरूक देश का निर्माण होता है। सरकार बनने की प्रक्रिया में निर्वाचन की प्रक्रिया पहला चरण है। चुनाव में सभी मतदाताओं को अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिए।

जिलाधीस धावडे़ :

विधानसभा निर्वाचन में महिलाओं को बढ़ चढकर मतदान करने के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि 01 जनवरी को 18 वर्ष पूर्ण कर चुके व्यक्ति मतदाता सूची में अपना नाम अनिवार्य रूप से जुड़वाये तथा ऐसे मतदाता जिनका नाम मतदाता सूची में अभी तक नहीं जुड़ पाया है, वे भी अपना पंजीकरण करायें। कलेक्टर ने कहा कि जिले में नव युवाओं और आम मतदाताओं को मतदान में शत् प्रतिशत भागीदारी के लिए सरहानीय प्रयास किया गया है।

पुलिस अधीक्षक एम. आर. आहिरे:

युवाओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया में प्रत्येक मतदाता को शामिल होना चाहिए। लोकतांत्रिक व्यवस्था में प्रत्येक वोट का महत्व है। एक बेहतर नागरिक के रूप में कर्तव्य व अधिकार को सही परिपेक्ष्य में समझना आवश्यक है, इससे लोकतंत्र की नींव मजबूत होती है।

उन्होंने स्वतंत्र निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान सम्पन्न कराने संकल्प लेने आग्रह किया। कहा कि बिना प्रलोभन के सभी मतदाता निर्वाचन प्रक्रिया में भाग लेकर मतदान करें और सही जनप्रतिनिधि का चुनाव कर देश के शासन प्रणाली में भागीदार बनें।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी जे.आर. चैरसिया ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस के बारे में जानकारी देते हुए विविध कार्यक्रम आयोजनों के संबंध में जानकारी दी। मतदाता सूची में नाम जोड़ने और काटने का कार्य वर्षभर किया जाता है, साथ ही आॅनलाईन आवेदन के माध्यम से भी मतदाता पंजीकरण की कार्यवाही की जा सकती हैं।

इसके अलावा अपने मतदान केन्द्र के बी.एल.ओ. और तहसील कार्यालय में भी संपर्क किया जा सकता है। कार्यक्रम में 01 जनवरी की स्थिति में 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके नये मतदाता परिचय पत्र प्रदाय किया गया तथा निर्वाचन प्रक्रिया केे तहत मताधिकार का प्रयोग करने की शपथ दिलाई गई।

इस अवसर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले बी.एल.ओ. सियाराम भांडेकर और बसंत कुमार बीसी तथा नोडल प्रध्यापक डाॅ. आर.के. तलवरे को चेक एवं प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया।

विधानसभा निर्वाचन में सेल्फी प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतिभागियों में से उत्कृष्ट सेल्फी लेने वाले मतदाता कुसुमलता तिवारी एवं अन्य पांच को एक-एक हजार रूपये के नगद पुरस्कार प्रदान किया गया।

हिमांशी त्रिपाठी व सुभाषिनी भोई को मिला प्रथम पुरस्कार

मतदाता जागरूकता कार्यक्रम के विभिन्न प्रतियोगिता चित्रकला में प्रथम पुरस्कार हिमांशी त्रिपाठी व सुभाषिनी भोई, द्वितीय पोखराज साहू व मुकेश्वरी ध्रुव और तृतीय लिलेश वर्मा, निबंध प्रतियोगिता में मुस्कान कोसरिया व धनेश्वरी साहू को प्रथम, रीना नागेश व भेषणलाल को द्वितीय एवं अमन दास तृतीय, भाषण प्रतियोगिता में मोक्ष सिन्हा व निखील यादव प्रथम, रीतू निषाद व कुमारी कनकलता को द्वितीय और कविता साहू को तृतीय तथा रंगोली प्रतियोगिता में मुकेश्वरी ध्रुव प्रथम, सुभाषिनी भोई द्वितीय एवं कुमारी इंदु को तृतीय पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया।

इस अवसर पर विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, स्कूल एवं काॅलेज के विद्यार्थी तथा नये मतदाता उपस्थित थे।

1
Back to top button