धोखाधड़ी : MBBS में एडमिशन दिलाने कोचिंग संचालकों ने छात्रा से ठग लिए 10 लाख

रायपुर।

राजधानी के जीवन विहार कालोनी तेलीबांधा निवासी पूर्व नजूल अधिकारी एवं अनुविभागीय दंडाधिकारी अनुराग लाल (55) ने शिकायत दर्ज कराई कि उसकी भांजी मंडी गेट जंघेल प्लाजा स्थित पाथवे टू पिनाकल एजुकेशन इंडिया में कोचिंग करने जाती थी। जहां छात्रा को निजी मेडिकल कॉलेज में दाखिला दिलाने का झांसा देकर कोचिंग संचालकों ने दस लाख रुपए ठग लिए। शिकायत पर देवेंद्र नगर पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है।

22 जून 2016 को कोचिंग सेंटर के संचालक पंकज गोहिया, अखिलेश झरिया ने सत्र 2016-17 में किसी निजी मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स में दाखिला दिलाने का झांसा देकर दस लाख रुपये की मांग की।

अनुराग ने कोचिंग सेंटर के दफ्तर में जाकर नकद रुपए दिए, रसीद भी आरोपियों ने दी, लेकिन न दाखिला मिला न पैसे लौटाए। पुलिस ने पंकज गोहिया, अखिलेश झरिया के खिलाफ धारा 420, 34 के तहत अपराध कायम किया है। बताया जा रहा है कि दोनों ने कई अन्य छात्र-छात्राओं से इसी तरह लाखों की ठगी की है।

Back to top button