क्राइम

सिस्टम में वायरस आने का झांसा देकर 500 से लेकर 10 हजार डॉलर तक की ठगी

आठ कॉल सेंटर संचालकों ने यह बात स्वीकार की

नोएडा :

अमेरिका, कनाडा और फिलीपींस समेत एक दर्जन से अधिक देशों के नागरिकों से ठगी करने के मामलों की छानबीन में यह चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। कम से कम आठ कॉल सेंटर संचालकों ने यह बात स्वीकार की है कि वह हवाला के जरिए पैसे मंगाते थे।

इन्होंने बताया कि जो भी विदेशी यूजर इनके जाल में फंस जाता था यह उसे हवाला कारोबारी के एकांउट का नंबर देते थे। यूजर पैसे हवाला कारोबारी के एकाउंट में ट्रांसफर कर देता था और ये लोग यहां भारत में तुरंत नकद पैसे पा जाते थे।

आरोपी पॉपअप मैसेज भेजकर यूजर्स के सिस्टम में वायरस आने का झांसा देकर 500 से लेकर 10 हजार डॉलर तक की ठगी कर लेते थे। पुलिस के अनुसार पहले आरोपी गेटवे से पैसे मंगवाते थे, लेकिन इससे उनके पकड़े जाने का खतरा था।

लिहाजा आरोपियों ने हवाला कारोबारियों से संपर्क किया और हवाला से पैसे मंगवाने शुरू कर दिए। जिस कारण आरोपी आज तक पकड़े नहीं गए थे।

लंबे समय से ठगी

नोएडा के कॉल सेंटरों से पिछले काफी समय से अमेरिका, कनाडा समेत विभिन्न यूरोपीय देशों के नागरिकों से ठगी हो रही थी। आरोपी वायरस भेजने का झांसा देकर ठगी कर रहे थे। इस मामले में पिछले दिनों एफबीआई और कनाडा पुलिस ने नोएडा पुलिस मिलकर कॉल सेंटरों पर कार्रवाई की मांग की थी।

पॉपअप मैसेज से बनाते थे शिकार

आरोपी ठगी का शिकार बनाने के लिए पॉपअप मैसेज भेजते थे। मैसेज में चेट कर आरोपी इसे वायरस बताते थे। लेकिन वह कोई वायरस नहीं होता था। वायरस जैसा लगता था। इससे सिस्टम में कोई खराबी भी नहीं होती थी।

दूसरों के अकाउंट में जमा करवाते थे पैसे

आरोपी पेपाल गेटवे से भी डॉलर में पैसे मंगाते थे। इसके बाद इस पैसे को दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर करा लेते थे। इनमें आठ ऐसे कॉल सेंटर हैं जो गेटवे के अलावा हवाला के जरिये भी ठगी की रकम हासिल करते थे। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि पिछले दो साल से ज्यादा समय से वह हवाला के जरिये पैसे मंगा रहे थे।

ऐसे खुला मामला

करीब 20 दिन पहले नोएडा अपराध शाखा के पास कॉल सेंटर में काम करने वाला एक व्यक्ति आया था। उसने पुलिस को बताया कि कॉल सेंटर संचालक ने उसकी एक माह की तनख्वाह नहीं दी। साथ ही उसने हवाला के जरिये पैसे मंगवाने का भी जिक्र किया।

एसएसपी डॉ अजयपाल शर्मा ने कहा कि विदेशी नागरिकों के साथ पॉपअप मैसेज भेज कर ठगी करने वाले कॉल सेंटरों का नोएडा पुलिस ने पर्दाफाश किया है। पकड़े गए आठ कॉल सेंटरों से हवाला के जरिये फंडिंग होने की जानकारी मिली है। पुलिस इसकी जांच कर रही है। अभी शहर में ऐसे और भी फर्जी कॉल सेंटर हो सकते हैैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
सिस्टम में वायरस आने का झांसा देकर 500 से लेकर 10 हजार डॉलर तक की ठगी
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags