क्राइमछत्तीसगढ़

लाटरी में महिंद्रा एसयूवी फंसने का झांसा, रिटायर्ड वैज्ञानिक से 14 लाख रुपए की ठगी

बिलासपुर पुलिस ने बिहार से दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी पाई

बिलासपुर: शहर के उसलापुर गैलेक्सी अपार्टमेंट में रहने वाले सेवानिवृत्त डीआरडीओं के वरिष्ठ वैज्ञानिक सीएल पटेल के पास अज्ञात नंबर से फोन आया, जिसमें फोनकर्ता ने प्रार्थी को लक्की ड्रा में 14,50,000 रुपए का महिन्द्रा 500 एसयूवी मिलने की जानकारी देते हुए गाड़ी या नगद रुपए लेने का विकल्प दिया.

प्रार्थी ने उम्र का हवाला देते हुए नगद लेने की मंशा जताई, जिस पर अज्ञात फोनकर्ता ने 3500 रुपए पंजीकरण शुल्क देने के लिए ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने को कहा. इसी दौरान अज्ञात फोनकर्ता ने प्रार्थी के इंटरनेट बैंकिंग का यूजर आईडी एवं पासवर्ड हासिल कर उनके खाते से अलग-अलग किश्तों में लगभग 14,50,994 रुपए ऑनलाइन बैकिंग के माध्यम से विभिन्‍न खातों में रुपए ट्रांसफर कर लिए.

बार-बार भूलवश रकम ट्रांसफर करने की बात कहकर वापस करने की बात कहते हुए अलग-अलग पांच मोबाइल नंबरों से ठगी की गई है. ठगी का अहसास होने पर प्रार्थी ने थाना सकरी में प्राथमिकी दर्ज कराई.

पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने मामले में त्वरित संज्ञान में लेते हुए घटना की जानकारी आईजी दीपांशु काबरा को अवगत कराने के साथ तत्कालिक अतिरिक्त पुलिस ओपी शर्मा, नगर पुलिस अधीक्षक सिविल लाइन आरएन यादव, नगर पुलिस कोतवाली निमेष बरैया के नेतृत्व में थाना प्रभारी सकरी, थाना प्रभारी के साथ प्रभारी साइबर सेल बिलासपुर की टीम घटित कर त्वरित कार्रवाई के लिए आदेशित किया.

घटना की जांच में और अग्रिम तकनीकी अनुसंधान के साथ विभिन्‍न नंबरों के विश्लेषण के दौरान पता चला कि जालसाजों का लोकेशन बिहार के जिला नवादा के वारिसलीगंज थाना अंतर्गत बलवापर चकवाई एवं कान्हागांव का है. इसके बाद पुलिस अधीक्षक ने टीम गठित कर आरोपियों की पकड़ने के लिए तत्काल रवाना करने के साथ पुलिस नवादा को भी जानकारी दी गई.

बिहार रवाना हुई पुलिस टीम ने स्थानीय पुलिस के सहयोग से ग्राम बलवापार चकवाई में आरोपियों के घर में स्थानीय पुलिस की मदद से घेराबंदी कर दबिश दिया गया जिसमें दो आरोपी गौतम और नीरज को पकड़कर पूछताछ की, जिसमें उन्होंने अन्य सहयोगी के साथ मिलकर घटना को अंजाम देना स्वीकार किया. जो फरार हो गए थे.

आरोपी गौतम कुमार पिता संजय प्रसाद (22 वर्ष) और नीरज कुमार पिता गणेश कुमार (18 वर्ष) से पांच लाख रुपए नगद रकम के साथ बड़ी संख्या में मोबाइल फोन, सिम कार्ड के साथ एटीएम कार्ड और बैंक पासबुक ब

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button