छत्तीसगढ़

समस्याओं से जूझते टेकारी विद्यालय में छात्राओं को निःशुल्क सायकल वितरण

28 छात्राओं को कोरोना संक्रमण के चलते जारी किये गाइडलाइन का पालन कर निःशुल्क सायकल वितरण

दीपक वर्मा

आरंगः शासन की नीति व निर्देशानुसार विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय आरंग के अधीनस्थ आने वाले शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला टेकारी (कुण्डा) में अध्ययनरत कक्षा नवमी के 28 छात्राओं को कोरोना संक्रमण के चलते जारी किये गाइडलाइन का पालन कर निःशुल्क सायकल वितरण विद्यालय प्रांगण में किया गया।

विद्यालय में छात्राओं को निःशुल्क सायकल वितरण

प्राचार्य जे. कुजूर के आदेश पर मौजूद इन छात्राओं को सायकल वितरण में शिक्षक विजय बंजारे व अन्य स्टाफ ने सहयोग प्रदान किया। इस कार्यक्रम में शाला विकास समिति के अध्यक्ष हुलासराम वर्मा, पूर्व अध्यक्ष विश्वनाथ नायक, ग्रामीण सभा अध्यक्ष रामानंद पटेल, सरपंच नंदकुमार यादव, उपसरपंच घनश्याम शर्मा, पूर्व सरपंच गणेशराम लहरें, क्षेत्रीय जिला पंचायत सदस्य ललिता वर्मा के प्रतिनिधि कृष्णा वर्मा व महावीर वर्मा सहित किसान संघर्ष समिति के संयोजक भूपेंद्र शर्मा मौजूद थे।

इस अवसर पर मौजूद इन ग्रामीण जनप्रतिनिधियों द्वारा विद्यालय की बेहतर संचालन हेतु समस्याओं की जानकारी लेने पर ज्ञात हुआ कि इस उच्चतर माध्यमिक शाला में भौतिक शास्त्र व हिन्दी का व्याख्याता नहीं है। इसके अतिरिक्त व्यायाम शिक्षक, सहायक शिक्षक विज्ञान, लेखापाल/सहायक ग्रेड-दो, ग्रॅथपाल (निम्न वेतनमान), चैकीदार का सरलीकृत एक-एक पद, सहायक ग्रेड-3 के 2 व भृत्य के तीन पद रिक्त पड़े हुते हैं। इसी तरह पूर्व माध्यमिक शाला मे प्रधानपाठक सहित शिक्षक के 2 व भृत्य का एक पद रिक्त पड़ा हुआ है।

विद्यालय में पेयजल की समस्या व पूर्व माध्यमिक शाला में छात्र-छात्राओं के लिये अभी तक मूत्रालय व शौचालय निर्माण नहीं होने तथा उच्च माध्यमिक शाला के शौचालय व मूत्रालय सहित कक्षों के खिड़की-दरवाजों के खस्ताहाल होने की भी जानकारी मिली, जिसका अवलोकन भी इन जनप्रतिनिधियों द्वारा किया गया। समिति के अध्यक्ष वर्मा ने जहां सरपंच व जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि से व्यापक विद्यार्थी हित में इन समस्याओं से निजात दिलाने आवश्यक कार्यवाही का आग्रह किया। वहीं शर्मा ने ग्रामवासियों का एक प्रतिनिधिमंडल ले क्षेत्रीय विधायक व नगरीय प्रशासन मंत्री शिवकुमार डहरिया तथा जिला प्रभारी मंत्री रवीन्द्र चैबे से मुलाकात करने का सुझाव दिया ताकि आगामी शैक्षणिक सत्र के पूर्व इन समस्याओं से निजात मिल सके।

Tags
Back to top button