हमर छत्तीसगढ़ योजना – विधिक सहायता क्लिनिक के जरिए महिलाओं को निःशुल्क कानूनी मदद

रायपुर : हमर छत्तीसगढ़ योजना के आवासीय परिसर, नया रायपुर के उपरवारा स्थित होटल प्रबंधन संस्थान में स्थापित विधिक सहायता क्लिनिक से स्वसहायता समूह की महिलाओं को निःशुल्क कानूनी सलाह एवं मदद मिल रही हैं। योजना के तहत अध्ययन भ्रमण पर आने वाली महिला स्वसहायता समूह की पदाधिकारियों को उनके गांव से जुड़े या निजी मामलों पर आवासीय परिसर में संचालित विधिक सहायता क्लिनिक में निःशुल्क मार्गदर्शन दिया जाता है। रायपुर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल अधिवक्ता श्री शाहिर लुधियानवी खान उन्हें शासन द्वारा मुहैया कराई जाने वाली निःशुल्क विधिक सेवाओं के बारे में बताते हैं।

अध्ययन भ्रमण पर राजधानी रायपुर आईं राजनांदगांव और गरियाबंद की महिलाओं ने यहां आवासीय परिसर के विधिक सहायता क्लिनिक में विभिन्न कानूनी मसलों पर सलाह-मशविरा किया। अधिवक्ता श्री शाहिर लुधियानवी खान ने राजनांदगांव जिले के आरसीटोला, टोंकपुर और बरसनपुर तथा गरियाबंद जिले के परसुली की स्वसहायता समूह की महिलाओं एवं उनके परिवार से संबंधित घरेलू हिंसा, भरण-पोषण, मोटर दुर्घटना दावा तथा हिन्दू उत्तराधिकार नियम के दायरे में आने वाले मामलों पर निःशुल्क सलाह एवं मार्गदर्शन दिया। श्री खान ने उन्हें जानकारी दी कि वे स्थानीय स्तर पर अपने जिले के जिला विधिक सेवा प्राधिकरण से संपर्क कर कानूनी सहायता ले सकते हैं। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण से उन्हें वकील की निःशुल्क सेवा भी मिल सकती है।

पंचायत प्रतिनिधियों, सहकारिता प्रतिनिधियों और महिला स्वसहायता समूह की पदाधिकारियों को कानूनी मदद उपलब्ध कराने के लिए हमर छत्तीसगढ़ योजना के आवासीय परिसर में पिछले 11 महीनों से विधिक सहायता क्लिनिक संचालित की जा रही है। अध्ययन प्रवास पर आने वाले जनप्रतिनिधि और पदाधिकारी इससे लगातार लाभान्वित हो रहे हैं। आवासीय परिसर में रोज आयोजित होने वाले प्रशिक्षण सत्र में उन्हें विभिन्न कानूनों की जानकारी भी दी जाती है। यहां उन्हें न्याय एवं अपने हक के लिए कानून के इस्तेमाल के लिए जागरूक भी किया जाता है।

Back to top button