Friendship Day: कैसे हुई थी इस दिन की शुरूआत? जानें फ्रेंडशिप डे का इतिहास

इस साल फ्रेंडशिप डे 1 अगस्त यानी आज मनाया जा रहा है.

delhi: दोस्ती का रिश्ता बेहद खूबसूरत रिश्ता होता है. ये रिश्ता हर जाती धर्म से परे होता है. दोस्ती एक ऐसा रिश्ता होता है जिसे बिना किसी शर्त के दिल से निभाया जा सकता है. दुनियाभर में हर साल अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है. इस साल फ्रेंडशिप डे 1 अगस्त यानी आज मनाया जा रहा है.

आधिकारिक स्तर पर इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे 30 जुलाई को मनाया जाता है. भारत और बांग्लादेश सहित कई अन्य देशों में फ्रेंडशिप डे अगस्त के पहले रविवार को मनाते हैं. पर क्या आपने कभी सोचा है दोस्ती के इस त्योहार की शुरुआत कब और कैसे हुई थी. तो आइए जानते हैं फ्रेंडशिप डे के इतिहास के बारे में….

फ्रेंडशिप डे का इतिहास:

फ्रेंडशिप डे की शुरुआत साल 1958 में हुई थी. कहा जाता है कि साल 1958 के अगस्त महीने के पहले रविवार को एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई थी. अपने दोस्त की याद में मरने वाले व्यक्ति के एक दोस्त ने आत्महत्या कर ली थी. तभी से अमेरिकी सरकार ने अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे के रूप में मनाने का निर्णय लिया था.

एक और कहानी:

इतिहास के पन्नों में फ्रेंडशिप डे से जुड़ी कई कहानियां देखने को मिलती हैं. माना जाता है कि पराग्वे के डॉक्टर रमन आर्टेमियो ने 20 जुलाई 1958 को एक डिनर पार्टी का आयोजन किया, जिसके दौरान उन्होंने अपने दोस्तों के साथ फ्रेंडशिप डे मनाने का विचार रखा. इसके बाद से दुनियाभर में फ्रेंडशिप डे मनाया जाने लगा.

ऐसे बनाएं खास:

दोस्ती के त्योहार को खास बनाने के लिए इस दिन सभी दोस्त एक साथ पार्टी का आयोजन करते हैं. इसके अलावा, दोस्त एक-दूसरे को कार्ड, ग्रीटिंग, गिफ्ट आदि देकर हर पल को एंजॉय करते हैं. कुछ लोग इस दिन को यादगार बनाने के लिए हिल स्टेशन या अपनी मनपसंद जगहों पर जाना पसंद करते हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button