1 जनवरी से जिंदगी से जुड़ी कई जरूरी चीजें भी बदल जाएंगी

सोमवार से सिर्फ साल नहीं बदल रहा है बल्कि आपकी जिंदगी से जुड़ी कई जरूरी चीजें भी बदल जाएंगी. यह बदलाव सरकार कर रही है

1 जनवरी से जिंदगी से जुड़ी कई जरूरी चीजें भी बदल जाएंगी

सोमवार से सिर्फ साल नहीं बदल रहा है बल्कि आपकी जिंदगी से जुड़ी कई जरूरी चीजें भी बदल जाएंगी. यह बदलाव सरकार कर रही है. जिसे जानना आपके फायदे का सौदा हो सकता है.

एक जनवरी से होने वाले ये बदलाव डेबिट कार्ड, आधार, उर्वरक सब्सिडी, हॉल मार्क ज्वैलरी और स्टेट बैंक से जुड़े हैं. ये सब आपके लिए महत्वपूर्ण हैं.

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) के खाताधारकों के लिए 1 जनवरी से नए नियम लागू होंगे. जिन लोगों के पास एसबीआई में मर्ज हो चुके बैंकों की चेकबुक हैं, वे इन्हें बदलवा लें. इनकी पुरानी चेक बुक और आईएफएससी कोड 31 दिसंबर के बाद अमान्य हो जाएंगे. स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर और जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ रायपुर, स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर, स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद और भारतीय महिला बैंक के खाताधारकों को नई चेक बुक के लिए आवेदन करना होगा.

डेबिट कार्ड से 2000 रुपये तक की खरीदारी पर शुल्क नहीं लगेगा. ऐसा डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए किया गया है. यह व्यवस्था एक जनवरी से लागू होगी. केंद्र सरकार ने इतनी रकम की खरीद पर लगने वाले मर्चेंट डिस्काउंट रेट में छूट दी है.

सिम कार्ड को आधार से लिंक करने के लिए एक जनवरी से आपको कंपनी के आउटलेट नहीं जाना होगा. 1 जनवरी से यह काम घर बैठे हो जाएगा. आपको सर्विस प्रोवाइडर की वेबसाइट पर रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर दर्ज कराना होगा. इसके बाद आपको वन टाइम पासवर्ड मिलेगा. इस ओटीपी को सर्विस प्रोवाइडर की वेबसाइट पर दर्ज करते ही आपका आधार नंबर सिम कार्ड से लिंक हो जाएगा.

चौथा बदलाव महिलाओं से जुड़ा है. भारतीय मानक ब्यूरो ने 1 जनवरी से सोने की हॉल मार्किंग से जुड़े मानक में बदलाव किया है. अब सोने के आभूषण तीन ग्रेड-14, 18 और 22 कैरेट में ही मिलेंगे. इससे पहले तक हॉल मार्किंग वाली ज्वैलरी 10 अलग-अलग ग्रेड में बेची जा रही थी.

एक तरफ सरकार ने डेबिट कार्ड से 2000 रुपये तक की खरीदारी पर शुल्क खत्म कर दिया है तो दूसरी ओर एनएससी और पीपीएफ पर कमाई घटा दी है. इन पर जनवरी से मार्च 2018 की तिमाही में ब्याज में 0.2 फीसदी की कमी होगी.

किसानों के लिए भी एक महत्वपूर्ण बदलाव है. उर्वरक पर सरकार की तरफ से मिलने वाली सब्सिडी अब सीधे किसानों के खातों में जमा की जाएगी. एक जनवरी से इस योजना को देश भर में लागू किया जाएगा. उर्वरक लेने के लिए किसानों को आधार कार्ड भी दिखाना होगा.

advt
Back to top button