वायदा-विकल्प, तिमाही नतीजे तय करेंगे अगले हफ्ते शेयर बाजार की चाल

मुंबई: अगले सप्ताह भारतीय शेयर बाजारों में उतार-चढ़ाव का रुख बना रह सकता है, क्योंकि निवेशक अक्टूबर 2017 से नवंबर 2017 के वायदा और विकल्प खंड में अपनी स्थिति तय करेंगे जबकि अक्टूबर की डेरिवेटिव निविदा की समाप्ति गुरुवार को हो रही है.

इसके अलावा बाजार की चाल प्रमुख कंपनियों की दूसरी तिमाही के नतीजे, घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े, वैश्विक बाजारों के प्रदर्शन, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर के खिलाफ रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतों का प्रदर्शन के आधार पर तय होंगे.

अगले सप्ताह जिन प्रमुख कंपनियों के जुलाई-सितंबर तिमाही के नतीजे आएंगे उनमें हिंदुस्तान जिंक और इंडियाबुल्स हाउसिंग सोमवार को अपने नतीजे जारी करेंगी.

इंफोसिस, एचडीएफसी बैंक, एशियन पेंट्स, अंबूजा सीमेंट्स, आईसीआईसीआई प्रुडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस, जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज और एबीबी के नतीजे मंगलवार को जारी होंगे.कोटक महिंद्रा बैंक, हिन्दुस्तान यूनीलीवर, ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन फार्मास्यूटिकल्स, एचसीएल टेक्नॉलजीज, आईडीएफसी बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज, आरबीएल बैंक और टाटा कम्युनिकेशन के तिमाही नतीजे बुधवार को आएंगे. यस बैंक अपने नतीजे गुरुवार को जारी करेगी. आईसीआईसीआई बैंक, आईटीसी, मारुति सुजुकी और इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन अपने नतीजे शुक्रवार को जारी करेगी.

1
Back to top button