आई.पी.एलक्रिकेटखेल

बारिश भी नहीं रोक पाई ‘गेल स्ट्रॉम’, पंजाब 9 विकेट से जीता

नई दिल्ली : आखिरकार बारिश भी कोलकाता के ईडन गार्डन में आए ‘गेल स्ट्रॉम’ को रोक नहीं पाई। पहले बल्लेबाजी करने उतरी कोलकाता नाइट राइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 192 रन का टारगेट दिया था। जवाब में उतरे पंजाब के ओपनर्स ने महज 8.2 ओवर में 96 रन बना दिए। इसके बाद बारिश शुरू हो गई। पंजाब जब मैदान में दोबारा लौटा तो डकवर्थ लुईस नियम के तहत उसे महज 28 गेंद में 29 रन चाहिए थे। जो उन्होंने केएल राहुल (60) का विकेट खोकर आसानी से प्राप्त कर लिया। राहुल ने अपनी पारी दौरान दो छक्के और नौ चौके लगाए। वहीं, दूसरी ओर क्रिस गेल ने कहर बरपाते हुए 6 छक्के और 5 चौके लगाकर महज 38 गेंदों में 62 रन बना अपनी टीम को जीत दिला दी।

इससे पहले सलामी बल्लेबाज क्रिस लिन की 74 रन की अर्धशतकीय पारी से कोलकाता पंजाब को जीत के लिए 192 रन का लक्ष्य दिया। आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर लिन (41 गेंद में छह चौके और चार छक्के) ने रोबिन उथप्पा (34 रन) के साथ दूसरे विकेट के लिए 72 और कप्तान दिनेश कार्तिक (43 रन, 28 गेंद में छह चौके) के साथ चौथे विकेट 62 रन की भागीदारी निभाायी जिससे मेजबान टीम सात विकेट पर 191 रन बनाने में सफल रही। बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद घरेलू टीम की शुरूआत अच्छी नहीं रही। उसने दूसरे ही ओवर में सुनील नारायण (01) का विकेट गंवा दिया, तब स्कोर एक विकेट पर छह रन था। मुजीबुर रहमान की गेंद को नारायण ने हवा में उछाल दिया और करूण नायर ने शानदार कैच लपका।

अश्विन ने 5वीं बार उथप्पा का विकेट झटका : इसके बाद लिन और उथप्पा ने मिलकर दूसरे विकेट के लिये 72 रन जोड़कर अच्छा स्कोर बनाने की ओर कदम बढ़ाये। पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने इस साझेदारी को आगे नहीं बढऩे दिया और उथप्पा को गुडलेंथ गेंद पर मिडविकेट पर कैच आउट कराया जिन्होंने 23 गेंद खेलकर अपनी पारी में पांच चौके और एक छक्का जमाया। इस तरह अश्विन ने 10 टी20 मैचों में पांचवीं बार उथप्पा का विकेट झटका। नीतिश राणा (03) क्रीज पर उतरे, लेकिन वह योगदान नहीं कर सके और अगले ही ओवर में रन आउट हो गये। राणा एक रन लेने के लिये पिच पर आधी दूरी पर आ गये थे लेकिन लिन ने उन्हें वापस लौटने का इशारा किया पर तब तक देर हो चुकी थी। कार्तिक आते ही सतर्कता बरती, जिससे उन्होंने और लिन ने मिलकर चौके और छक्के जड़ते हुए चौथे विकेट के लिये अर्धशतकीय साझेदारी निभा ली।

टीम ने 11.1 ओवर में कार्तिक के चौका लगाने से 100 रन पूरे किये, जिससे ऐसा लग रहा था कि टीम 200 रन तक पहुंच जाएगी। लिन ने इसी ओवर की अंतिम गेंद पर युवराज सिंह पर दो रन लेकर 30 गेंद में चार चौके और तीन छक्के से अपने 50 रन पूरे किए। अगले ओवर में लिन ने आक्रामकता दिखाते हुए एंड्रयू टाई (30 रन देकर दो विकेट) की गेंद पर 103 मीटर ऊंचा गगनचुंबी छक्का जड़ा। अंतिम गेंद पर पंजाब ने लिन को आउट करने का अच्छा मौका गंवा दिया जब बरिंदर सरन (50 रन देकर दो विकेट) ने डीप एक्सट्रा कवर पर उनका कैच छोड़ दिया। टाई ने ही लिन की शानदार पारी का अंत किया, गेंद उनके बल्ले को चूमती हुई सीधे विकेटकीपर लोकेश राहुल के हाथों में समां गई। आंद्रे रसेल (10 रन) सात रन ही बनी पाए थे कि बरिंदर सरन का शिकार बन गए। शुभमान गिल 14 और पीयूष चावला दो रन बनाकर नाबाद रहे।

Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.