छत्तीसगढ़

गांधी जयंती : शराब पर भी लगे प्रतिबन्ध : रिजवी

रायपुर ।

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के मीडिया प्रमुख एवं वरिष्ठ अधिवक्ता इकबाल अहमद रिजवी ने कहा है कि 2 अक्टूबर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती है तथा उक्त तिथि पर भाजपा शासन ने मांस-मटन पर प्रतिबंध लगाया है। परन्तु खेद एवं आश्चर्य का विषय है कि बापू की जयंती पर शराब दुकान एवं बार यथावत खुले रहेगे जो असहनीय, अमानवीय एवं अकल्पनीय निर्णय है।

शराब एक समाजिक बुराई एवं स्वास्थ्य के लिये हानिकारक है तथा मांस-मटन बेचना वर्ग विशेष का व्यवसाय है, तथा मांस-मटन की ब्रिकी बंद होने से कारोबारियो को आर्थिक हानि उठानी पड़ती है। जिसकी नुकसानी की भरपाई प्रदेश की सरकार को करना चाहिये।

रिजवी ने कहा है कि प्रदेश की भाजपा सरकार राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को सच्ची श्रद्धांजली देने की यदि पक्षधर है तो गांधी जयंती को सार्थक सिद्ध करने के लिए मंदिरा दुकाने एवं बार पर भी प्रतिबंध लगाना चाहिये, प्रदेश सरकार शराब बनाना एवं बेचना बंद करें। अन्यथा आगामी विधानसभा चुनाव में जकांछ की सरकार बनने वाली है। उस समय भावी मुख्यमंत्री अजीत जोगी जो प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी की घोषणा कर चुके है, उस संकल्प को प्रदेशवासियो से सलाह मशविरा कर मूर्त रूप प्रदान करेगें।

Summary
Review Date
Reviewed Item
गांधी जयंती : शराब पर भी लगे प्रतिबन्ध : रिजवी
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags