राष्ट्रीय

सेवासदन में मनाई गई गांधी जयंती

दंतेवाड़ा : गांधी जयंती के अवसर पर सेवासदन के रूप में परिणित हुए जिला कलेक्ट्रोरेट में गांधी जयंती मनाई गई। इस अवसर पर जिला कलेक्ट्रोरेट के प्रांगण में स्थापित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा पर अपर कलेक्टर दिलीप अग्रवाल ने माल्यार्पण किया। प्रतिदिन की तरह ठीक प्रात:10.30 बजे जिला कलेक्ट्रोरेट के सभाकक्ष पर बापू के प्रिय भजन बैष्णव जन तो तेने कहिए जे, पीड़ पराई जाणे रे, का श्रावण किया गया भजन श्रवण उपरांत अपर कलेक्टर अग्रवाल ने उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश में शांति अमन और चैन के लिए बापू ने जो रास्ते बताए हैं वे आज भी प्रासंगिक है। अंहिसा के अस्त्र से उन्होंने पूरी ब्रिटिश हुकुमत को अपने सामने नतमस्तक होने पर मजबृर कर दिया। उनके बताए सत्य, अहिंसा, अपरिग्रह और अस्तेय के सिद्धांत आज भी उतने ही प्रासंगिक और महत्वपूर्ण है जितने की उस समय थे।
कलेक्ट्रोरेट को सेवा सदन के रूप में परिणित करने का एकमात्र उद्देश्य है कि जो भी व्यक्ति अपने किसी कार्य से इस कार्यालय में आता है तो उसे ऐसा लगना चाहिए कि उसका कोई अपना यहां बैठा है। उसके अन्दर किसी भी प्रकार का डर या संकोच नहीं होना चाहिए। एक अधिकारी और कर्मचारी होने के नाते हमारा फर्ज है कि जो भी व्यक्ति इस कार्यालय में आए उससे पूरी विनम्रता, सहानुभूति और प्रेमपूर्वक व्यवहार करते हुए उसके कार्य को महत्ता प्रदान करें और जितनी जल्दी से जल्दी हो सके उस कार्य को पूर्ण करना चाहिए। तभी इस कलेक्ट्रोरेट को गांधीमय स्वरूप प्रदान करने का उद्दे्श्य सफल हो पाएगा। आज हम सभी को गांधीजी के बताए रास्ते आदर्शो और विचारों को आत्मसात करते हुए उस पर पूर्ण लगन और कर्मठता से चलना चाहिए। इस अवसर पर संयुक्त कलेक्टर गोविंद राम राठौर, डिप्टी कलेक्टर रामप्रसाद चौहान सहित जिला कार्यालय के समस्त अधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.