अन्यराज्य

गुड़िया गैंगरेप हत्याकांड के आरोपी की देर रात पुलिस कस्टडी में हत्या

गुड़िया गैंगरेप और हत्या मामले में पकड़े गए एक आरोपी की हत्या कर दी गई है। पुलिस के अनुसार शिमला के कोटखाई थाने के भीतर ही इसके साथी राजेंद्र सिंह उर्फ राजू ने नेपाली मूल के इस युवक की हत्या कर डाली।

प्रारंभिक सूचना के अनुसार गैंगरेप और हत्या मामले में कुल छह आरोपियों को पुलिस ने धर दबोचा था। इनमें से एक को न्यायिक हिरासत में भेजा गया था जबकि पांच आरोपी कोटखाई थाने में पुलिस रिमांड पर थे। इनमें राजू और सूरज नाम का यह युवक एक ही लॉकअप में बंद थे।

बताया जा रहा है कि देर रात करीब 12 बजे थाने के भीतर दोनों आरोपी आपस में उलझ गए। आरोपी राजेंद्र नेपाली मूल के 29 वर्षीय सूरज पर टूट पड़ा। उसने उसे जोर से फर्श पर पटक दिया।

इससे सूरज लहुलूहान हो गया और ज्यादा खून बहने से उसकी मौत हो गई। आईजी साउथ रेंज जहूर जैदी का कहना है कि एक आरोपी की हत्या हो गई है। जांच चल रही है।

सो रही थी पुलिस, कस्टडी में मौत से गहराया सस्पेंस

इस हत्या के बाद जहां पुलिस की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में आ गई है। वहीं, हत्या मामले का राज और गहराता जा रहा है। सवाल उठ रहे हैं कि जब ये वारदात अंजाम दी गई, उस वक्त पुलिस क्या सो रही थी।

रात करीब 12 बजे पुलिस को इस हाथापाई की खबर क्यों नहीं लगी। क्यों आरोपी राजेंद्र को मारपीट करने का मौका दिया गया। आखिर पुलिस ने कोई कदम क्यों नहीं उठाया। पुलिस की कार्यप्रणाली अब सवालों के घेरे में आ गई है।

ड्यूटी पर तैनात जांच अधिकारी, लॉकअप की निगरानी में लगे जवान और पूछताछ कर रहे पुलिसकर्मियों पर जल्द ही गाज गिर सकती है। पुलिस महकमा इस मामले मामले की जांच में जुट गया है।

Tags
Back to top button