राष्ट्रीय

गार्गी कॉलेज: दिल्ली पुलिस ने अब तक 12 लोगों को किया गिरफ्तार

10 लोगों को ट्रेस्पासिंग के आरोप में कोर्ट ने रिहा किया

नई दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय के गार्गी कॉलेज में पिछले सप्ताह फेस्ट के दौरान छात्राओं से बदसलूकी के मामले में दक्षिण जिला पुलिस ने दस आरोपियों को बुधवार को गिरफ्तार किया है. उसके बाद दो और लोगों को गिरफ्तार किया गया.

वहीं इस मामले में 10 लोगों को ट्रेस्पासिंग के आरोप में साकेत कोर्ट ने जमानत पर रिहा भी कर दिया है. कॉलेज में पढ़ने वाली छात्राओ ने आरोप लगाया था कि फेस्ट के दौरान कुछ बाहर के लड़के दीवार फांदकर दाखिल हुए और अश्लील हरकत करते हुए उनके साथ छेड़छाड़ की, लेकिन ये मामला सिर्फ सोशल मीडिया पर ही चल रहा था.

पुलिस को किसी लड़की और कॉलेज प्रशासन ने कोई शिकायत नहीं दी थी, जिसके बाद इस मामले ने राजनीतिक रंग भी ले लिया था. फिर पुलिस ने सू मोटो लेते हुए जांच की औऱ जांच का जिम्मा साउथ डिस्ट्रिक्ट की एडिशनल डीसीपी गीतांजलि खण्डेलवाल को दिया गया.

एडीसीपी ने गार्ड्स, कॉलेज में पढ़ने वाले छात्रों से बात की. कॉलेज के सीसीटीवी को भी देखा और फिर उसके बाद छेड़छाड़ 354, ट्रेसपसिंग 452, 506 धमकी देने के तहत हौजखास थाने में FIR दर्ज की गई.

पुलिस ने जांच करते हुए बुधवार को कॉलेज के बाहर के 10 लोगों को गिरफ्तार किया. जिन पर आरोप था जबरन कॉलेज की दीवार फांदकर अंदर दाखिल होने का, लेकिन पुलिस को इनके खिलाफ छेड़छाड़ के सबुत नहीं मिले. अब और दो लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जिनसे पुलिस पूछताछ कर रही है.

Tags
Back to top button