छत्तीसगढ़

आत्म निर्भर का केन्द्र बनेंगे गौठान -कलेक्टर सुनील कुमार जैन

बलौदाबाजार आलोक मिश्रा ब्यूरो हेड

स्व रोजगार का एकीकृत मॉडल होंगें गौठान, कलेक्टर ने गौठान एवं नरवा के कार्यों का किया आकस्मिक निरीक्षण
बलौदाबाजार: राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना नरवा गरवा घुरवा बाड़ी के अंर्तगत आज कलेक्टर श्री सुनील कुमार जैन ने जिले में स्थित विभिन्न आदर्श गौठानो का निरीक्षण कर जायजा लिया।

इस दौरान उन्होंने भाटापारा विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम गोढ़ी एस एवं बलौदाबाजार विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम पुरैना खपरी में स्थित आदर्श गौठान जायजा लेकर वहां महिला स्व सहायता समूहों के द्वारा किये जा रहें कार्यों की सरहाना किया।

ग्राम गोढ़ी एस गौठान में स्व सहायता समूहों के द्वारा किये जा रहें जैविक खाद निर्माण,बाड़ी में लगें सब्जी भाजी की खेती, गोबर से निर्मित गमले का निर्माण के साथ ही महिला स्व सहायता समहू के द्वारा कड़कनाथ मुर्गी का पालन किया जा रहा।

कलेक्टर श्री जैन ने स्व सहायता समूहो की महिलाओं से बातचीत कर उनके कार्यों के बारे में हाल चाल जाना स्व सहायता समूह से सम्बंधित रजनी बाई निषाद ने कलेक्टर जैन को बताया कि हमारे गांव में 10 महिला स्व सहायता समूह हैं। जिसमें से 2 महिला स्व सहायता समूह द्वारा सब्जियों का उत्पादन,जैविक खाद का निर्माण, जीवामृत, मशरूम का उत्पादन, कड़कनाथ मुर्गियों का पालन किया जा रहा है। सब्जियों में तोरई,लौकी, करेला एवं कुछ भाजी का भी उत्पादन किया जा रहा हैं। साथ ही इस वर्ष किनारे किनारे फेंसिंग में सेमी,करौंदा,डांक कांदा का भी रोपण किया जा रहा हैं।

आत्म निर्भर का केन्द्र बनेंगे गौठान कलेक्टर ने जैन ने कहा कि जिले के आदर्श गौठान रोजगार का आत्मनिर्भर केंद्र के साथ मल्टी ऐक्टीविटी सेंटर बनाने की दिशा में हम आगें बढ़ रहें है। गौठान में से लगे खाली जमीन पर तालाब एवं डबरी निर्माण कर मछली पालन का केंद्र बनाया जाएगा जिस को गाँव के युवा समूहों के माध्यम से मछ्ली पालन किया जायेगा।

गाँव के अलग अलग समूहों को चिन्हाकित कर किसी को एलईडी एवं टार्च बैटरी बनाने का कार्य, किसी को साबुन डिटर्जेंट, सेनेटाइजर,निर्माण का कार्य,चरागाह की व्यवस्था सभी अलग अलग कार्य अलग अलग समूह को दिया जायेगा। जिससे निश्चित ही रोज़गार के नये अवसर पैदा होंगे जो माननीय मुख्यमंत्री की सोच हैं। इनके द्वारा किये गए उत्पादन की बिक्री की भी एकीकृत व्यवस्था किया जा रहा हैं।

आने वाले दिनों में प्रत्येक जिले के प्रत्येक विकासखण्ड मुख्यालयो में एक दुकान अलग से खोलने की तैयारी जिला पंचायत के माध्यम से किया जा रहा हैं। इन दुकानों का भी संचालन महिला स्व सहायता समूहों के द्वारा किया जाएगा।

जिला पंचायत सीईओ डॉ फ़रिहा आलम सिद्की ने इस संबंध में बताया कि आने वाले 11 जुलाई से इन चयनित महिला स्व सहायता समुहों का प्रशिक्षण भी प्रारंभ किया जा रहा हैं। कलेक्टर ने इस दौरान बहुत से सम्बंधित अधिकारियों को समय सीमा के भीतर आवश्यक कार्यों को शीघ्रता पूर्वक काम करने के निर्देश दिए गए हैं।

चारागाह का निर्माण में आयी तेजी

दोंनो गौठान के बाजू में स्थित 5 एकड़ भूमि में चारागाह का निर्माण किया जा रहा। जिसमें नेपियर घास एवं मक्का का रोपण किया गया हैं। नेपियर घास का उपयोग जानवरों के पौष्टिक चारे के रूप में उपयोग किया जाता हैं। आने वाले एक माह के भीतर में यह घास तैयार हो जायेगा। कलेक्टर जैन एवं जिला पंचायत सीईओ डॉ फ़रिहा आलम सिद्दकी की ने चारागाह में नेपियर घास एवं पौधा रोपण कर फेंसिंग का भी निरक्षण कर जायजा लिया।

नरवा के कार्यों का भी लिया जायजा कलेक्टर जैन ने ग्राम सेमराडीह में स्थित मेड़का नाला में चल रहें मनरेगा के अंतर्गत कार्यो का जायजा लिया। ग्रामीण रामकुमार वर्मा ने कलेक्टर को बताया की हमारे गाँव से निकलने वाले यह नाला कई गाँव को होकर शिवनाथ नदी में मिल जाती है।

नरवा के पानी के माध्यम से गाँव के तालाब एवं कृषि के लिए पानी पर्याप्त मात्रा में हमें मिल जाता है। कलेक्टर श्री जैन ने सम्बंधित अधिकारियों को नाला के कार्यों में जरा भी कोताही नही बरतने के निर्देश दिए गये है। यह सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाले कार्यो में शामिल हैं।गौठान में गाँव के सरपंच गौरी वैष्णव सहित पंच गण भी उपस्थित रहें।

इस निरक्षण के दौरान जिला पंचायत सीईओ डॉ फ़रिहा आलम सिद्की, अतरिक्त जिला पंचायत सीईओ हरिशंकर चौहान, भाटापारा एसडीएम महेश राजपूत,कृषि उपसंचालक वी पी चौबे,पशु पालन विभाग उप संचालक डॉ पांडेय,उघानिकी कमलेश साहू,ग्रामीण यांत्रिकी सेवा ईई एंथोनी तिर्की मछ्ली पालन विभाग बी पी चौबे,मनरेगा अधिकारी के के साहू, स्वच्छता अधिकारी मुरली यदु
जनपद पंचायत सीईओ सहित,समस्त तकनीकी अधिकारी एवं कर्मचारी गण उपिस्थत थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button