शिर्डी साईंबाबा फाउंडेशन द्वारा ‘गीता’ तीन भाषाओं में एक साथ ‘गीता सार’ डिजिटल मिडिया पर रिलीज़

डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिये युवा पीढ़ी तक पहुंचाने का प्रयास

मुंबई: श्रीमद भगवत गीता को अब शिर्डी साईं बाबा फाउंडेशन व ओरिएंट ट्रेडलिंक लिमिटेड द्वारा ‘गीता’ नाम से एक साथ भाषाओं में यानी संस्कृत, हिंदी और अंग्रेजी में रिकॉर्ड कर के सभी डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिये लोगों तक और खासकर युवा पीढ़ी तक पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है।

जिसमें अंग्रेजी में आवाज़ आशिम खेत्रपाल ने, हिंदी में विकास कपूर और संस्कृत में रणदीप की आवाज़ में तैयार किया गया है। जिसमें संगीत अमर प्रभाकर देसाई ने दिया है। जिसे मुंबई में रिलीज़ किया गया।

इस अवसर पर शिर्डी साईं बाबा फाउंडेशन (एसएसबीएफ) के प्रबंध निदेशक आशिम खेत्रपाल कहते है, “आजकल लोग खासकरके युवा पीढ़ी धर्म, कला, संस्कृति और सभ्यता सब भूलती जा रही है और उनको पता भी नहीं चल रहा है।

गीता एक महान ग्रन्थ है और सभी उसको समझे और सुने इसलिए तीन भाषाओं में यह रिलीज़ किया और खासकर के डिजिटल प्लेटफॉर्म पर,जिससे कभी भी और कही भी सुना जा सके।’जब मैं बदलूंगा तो तुम बदलोगे और जब तुम बदलोगे तो संसार बदलेगा’ यह गीता उपदेश मुझे बहुत पसंद आया। ‘गीता’ घर-घर पहुंचे, यही हमारी कोशिश है।

Back to top button