सेंट विसेंट पलोटी स्कूल में गेट तक पहुंचना बच्चों के लिए डेंजर जोन से कम नहीं

पार्किग व्यवस्था नहीं होने से बच्चे रोज उठा रहे जान का जोखिम

बिलासपुर: शहर के मंगला चौक पास संचालित सेंट विसेंट पलोटी स्कूल में बच्चों और पालकों के लिए पार्किंग की व्यवस्था नहीं होने से स्कूल गेट से मुख्य सड़क तक वाहनों का जमावड़ा लगा रहता है। स्कूल टाइम में जाम की स्थिति बन जाती है। इस मार्ग से गुजरने वालों को भी परेशानी उठानी पड़ती है।

बता दें कि सेंट विसेंट पलोटी स्कूल में करीब 2000 हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स पढ़ने आते हैं। अपनी निजी वाहनों से स्कूल आने वाले छात्रों को स्कूल परिसर में पार्किंग की व्यवस्था नहीं होने से स्कूल गेट से बाहर ही पार्किंग करानी पड़ती है। स्कूल के बाहर सैकड़ों बाइक खड़ी होने के कारण हर बार जाम की स्थिति बन जाती है। मुख्य मार्ग में स्कूल होने के कारण यहां से चारपहिया वाहनों का आना-जाना बना रहता है। इन सबके बीच से स्कूल तक आने में कई बार हादसे भी हो चुके हैं। बावजूद इसके स्कूल प्रबंधन बच्चों की सुरक्षा के लिए कोई पहल नहीं कर रहा है।

हैरानी की बात तो ये है कि स्कूल गेट पर सुरक्षा गार्ड तक तैनात नहीं किए गए हैं। जिसकी वजह से छुट्टी के बाद गेट से निकल कर बच्चे सीधे सड़क पर पहुंचते हैं। जिसकी वजह से दुर्घटना का डर बना रहता है। बच्चों की सुरक्षा व्यवस्था में सुप्रीम कोर्ट के गाइड लाइन की भी अनदेखी की जा रही है। पालकों और छात्रों के कई बार विरोध करने के बाद भी स्कूल प्रबंधन कोई कार्रवाई नहीं करता है। जिसकी वजह से पालकों में रोष बना हुआ। प्रबंधन की मनमानी पर बच्चों और पालकों में गुस्सा बढ़ता जा रहा है। उन्होंने चेताया है कि बच्चों की सुरक्षा में हो रही चूक की वजह से अगर कोई अनहोनी होती है तो इसके लिए स्कूल प्रबंधन ही जिम्मेदार होगा।</>

Back to top button