क्राइमबड़ी खबरराष्ट्रीय

गाजियाबादः पत्रकार विक्रम जोशी की मौत

गाजियाबाद के पत्रकार विक्रम जोशी की मौत हो गई है। जोशी को विजय नगर इलाके में स्कूटी सवार बदमाशों ने सोमवार को सिर में गोली मारी थी। इस सिलसिले में कल तक नौ लोगों को गिरफ्तार और चौकी इंचार्ज को निलंबित किया गया था।

विजयनगर थानाक्षेत्र की माता कॉलोनी में सोमवार देर रात मीडियाकर्मी विक्रम जोशी को गोली मारने के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी समेत नौ लोगों को गिरफ्तार किया था।
पुलिस ने आरोपियों से घटना में प्रयुक्त तमंचा भी बरामद किया है। वहीं, छेड़छाड़ के मामले में शिकायत मिलने के बावजूद कार्रवाई न करने वाले प्रताप विहार चौकी इंचार्ज राघवेंद्र सिंह को एसएसपी ने सस्पेंड कर दिया है। साथ ही पुलिस की लापरवाही को लेकर सीओ प्रथम को विभागीय जांच सौंपी है।

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि मीडियाकर्मी विक्रम जोशी के भाई अनिकेत जोशी ने रवि, छोटू और आकाश बिहारी को नामजद करते हुए कई अज्ञात लोगों के खिलाफ तहरीर दी थी। मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छह टीमें गठित कीं।

घटना के दो घंटे बाद ही मुख्य आरोपी रवि को गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि बाकी अन्य आरोपी भी मंगलवार सुबह तक पकड़ लिए गए। पकड़े गए आरोपियों में रवि निवासी माता कॉलोनी, छोटू, साकिब व आकाश उर्फ लुल्ली निवासीगण चरण सिंह कॉलोनी, मोहित निवासी भाव देवव्रत कॉलोनी, दलवीर निवासी एक-ब्लॉक सेक्टर-9 विजयनगर, योगेंद्र निवासी सेक्टर-11 विजयनगर, अभिषेक हकला निवासी लाल क्वार्टर थाना साहिबाबाद, अभिषेक मोटा निवासी माता कॉलोनी सेक्टर-12 विजयनगर शामिल हैं। एक अन्य आरोपी आकाश बिहारी फरार है।

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना

जिस जगह विक्रम जोशी को गोली मारी गई, वहां सीसीटीवी कैमरे लगे हुए थे। विक्रम को बाइक से गिराने के बाद मारपीट कर एक तरफ ले जाने और फिर गोली मारने की लाइव घटना कैमरे में कैद हो गई। घटना के समय विक्रम जोशी के साथ बाइक पर उनकी दोनों बेटियां भी थीं। हमले के बाद छोटी बेटी परिजनों को बुलाने के लिए दौड़ी, जबकि बड़ी बेटी पिता के पास ही खड़ी रही।

यह था मामला
विजयनगर बाईपास निवासी विक्रम जोशी एक समाचार पत्र से जुड़े थे। सोमवार रात वह माता कॉलोनी निवासी बहन के घर गए थे। रात करीब 10:30 बजे वहां से आते समय कुछ बदमाशों ने उन पर हमला बोल दिया। एक बदमाश ने तमंचा सिर से सटाकर विक्रम को गोली मार दी। घटना को अंजाम देकर हमलावर फरार हो गए। परिजनों के मुताबिक विक्रम जोशी के परिवार की एक लड़की के साथ छेड़छाड़ हुई थी। इस संबंध में थाने में नामजद शिकायत की गई थी। पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने पर आरोपी पीड़ित पक्ष को लगातार धमकी दे रहे थे। विक्रम इस मामले की पुलिस में पैरवी कर रहे थे। इसी बात को लेकर आरोपियों ने उन्हें गोली मार दी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button