गैर जिम्मेदाराना बयान को लेकर संतोषजनक स्पष्टीकरण दें राहुल -आयोग

आयोग ने गांधी की कथित टिप्पणी की निंदा करते हुए कहा

नई दिल्‍ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के द्वारा रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के संदर्भ में कथित तौर पर ‘अपमानजनक’ टिप्पणी करने को लेकर राष्ट्रीय महिला आयोग ने जमकर निशाना साधा है.

राष्ट्रीय महिला आयोग ने राहुल गांधी को जारी नोटिस में मीडिया में आई खबरों का हवाला देते हुए कहा कि यह बयान ‘नारी विरोधी, आक्रामक, अनैतिक और अपमानजनक’ है.

‘अपमानजनक’ टिप्पणी करने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा और आयोग ने गांधी की कथित टिप्पणी की निंदा करते हुए कहा कि वह अपने गैर जिम्मेदाराना बयान को लेकर संतोषजनक स्पष्टीकरण दें.

दरअसल, कांग्रेस अध्यक्ष ने राजस्थान में बुधवार को एक रैली में राफेल मामले का हवाला देते हुए कहा था, 56 इंच का सीना रखने वाला चौकीदार भाग गया और एक महिला सीतारमण जी से कहा कि मेरा बचाव कीजिए. मैं अपना बचाव नहीं कर सकता, मेरा बचाव कीजिए.

ये सभी महिलाओं का अपमान

राहुल गांधी के जवाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को उन पर जमकर बरसे. इसे पीएम मोदी ने देश में सभी महिलाओं का अपमान बताया. सीतारमण के संदर्भ में पीएम मोदी ने कहा,

यह ना केवल एक महिला बल्कि भारत की समस्त महिला शक्ति का अपमान है जिसके लिए इन गैर जिम्मेदाराना नेताओं को कीमत चुकानी पड़ेगी. प्रधानमंत्री ने कहा कि यह गर्व की बात है कि एक महिला देश में पहली बार रक्षा मंत्री बनीं.

इससे पूर्व, महाराष्ट्र के सोलापुर और उत्तर प्रदेश के आगरा में रैलियों में कांग्रेस के साथ-साथ सपा और बसपा के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाते हुए मोदी ने अपने आप को चौकीदार बताया जो भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में अंधेरे में भी गलत करने वालों को पकड़ सकता है.

पीएम मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार को मिटाने में उनके सफाई अभियान से विपक्ष चौकीदार से इतना डर गया है कि चिर प्रतिद्वंद्वी सपा और बसपा उन्हें सत्ता से बाहर करने के लिए एक-साथ आ गए हैं. मोदी ने अपने लिए चौकीदार शब्द का इस्तेमाल किया. राहुल गांधी प्रधानमंत्री पर हमला बोलने के लिए अक्सर इस शब्द का इस्तेमाल करते हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस को यह बताना होगा कि राफेल को लेकर उसके आरोपों का आधार क्या है. प्रधानमंत्री ने दावा किया कि अगस्ता वेस्टलैंट वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले के मामले में गिरफ्तार कथित बिचौलिया क्रिश्चियन मिशेल राफेल की प्रतिद्वंद्वी कंपनी के लिए काम कर रहा था. पीएम मोदी ने मीडिया में चल रही खबरों का उल्लेख करते हुए कहा कि मिशेल किसी अन्य प्रतिस्पर्धी की हिमायत कर रहा था.

1
Back to top button