शिल्पियों को स्थानीय स्तर पर अधिक से अधिक दिलाएं लाभ : मंत्री गुरू रूद्रकुमार

ग्रामोद्योग मंत्री ने छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड और माटीकला बोर्ड के कामकाज की समीक्षा की

रायपुर, 23 जून 2021 : ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने आज राजधानी स्थित नीर भवन में हस्तशिल्प विकास बोर्ड और माटीकला बोर्ड के कामकाज की समीक्षा की। इस बैठक में मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने अधिकारियों को मैदानी स्तर पर शिल्पियों से सतत् संपर्क कर उन्हें उचित लाभ दिलाएं और उनके द्वारा तैयार किए गए उत्पादों को बेहतर बाजार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि उनकी कला को प्रोत्साहित करने और शिल्पकला को उनकी आजीविका का साधन बनाने के लिए हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। इसके लिए हस्तशिल्प कला को देश-विदेश तक पहुंचाने के लिए शिल्पकारों द्वारा तैयार किए गए उत्पादों को ऑनलाइन प्लेटफार्म भी उपलब्ध कराया गया है। प्रशिक्षण के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा लोगों को शिल्पकला से जोड़ कर उन्हें आजीविका का साधन मुहैया कराएं।

हस्तशिल्प विकास बोर्ड

ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रुद्रकुमार ने बैठक में सभी अधिकारियों से जिलेवार जानकारी ली। उन्होंने समीक्षा के दौरान अद्यतन जानकारी उपलब्ध न कराए जाने पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने सभी अधिकारियों को प्रतिमाह होने वाली बैठक में प्रोग्रेस रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। समीक्षा बैठक में हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष चंदन कश्यप ने अधिकारियों से शिल्पकारों से समन्वय स्थापित कर उनकी समस्याओं से अवगत होकर उन्हें दूर करने सुझाव दिया।

बैठक के दौरान हस्तशिल्प उत्पादों के विक्रय की स्थिति, मोबाईल शबरी एंपोरियम के माध्यम से विक्रय की स्थिति, हस्तशिल्प उत्पादों की ऑनलाइन बिक्री, प्रदर्शनियों के माध्यम से विक्रय की स्थिति छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड द्वारा संचालित योजनाओं की अद्यतन स्थिति, बोर्ड द्वारा संचालित परियोजनाओं की अद्यतन स्थिति, शिल्पी बेसलाइन सर्वेक्षण शिल्पकारों के लंबित भुगतान, जेम पोर्टल पर पंजीयन, ट्राईफेड में कोडिंग की प्रगति, खुले बाजार में बिक्री के लिए किए जा रहे प्रयास और लॉकडाउन के दौरान शिल्पियों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए किए गए प्रयास और अब तक प्रशिक्षण की कार्य योजना आदि विषयों पर बिंदुवार चर्चा की गई। ग्रामोद्योग के संचालक और हस्तशिल्प विकास बोर्ड के प्रबंध संचालक सुधाकर खलखो ने माटीकला बोर्ड की अद्यतन प्रगति की जानाकरी दी।

प्रमुख सचिव ग्रामोद्योग डॉ. मनिंदर कौर द्विवेदी ने अधिकारियों से सभी उत्पादों के सैम्पल लेकर उन्हें कोडिंग करने के निर्देश दिए। प्रमुख सचिव डॉ. द्विवेदी ने अम्बिकापुर और जशपुर जिले में बोर्ड द्वारा लॉकडाउन के दौरान शिल्पियों को रोजगार उपलब्ध कराए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त कर जिले में बोर्ड संचालित कार्यों की भी सराहना की। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड के महाप्रबंधक द्वय शंकर लाल धुर्वे, जितेन्द्र सिंह सहित हस्तशिल्प विकास बोर्ड और माटीकला बोर्ड के सभी जिलों के अधिकारी उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button