बढ़ते उम्र के बच्चों को दे ये पोषक आहार, जो रखे उन्हे स्वस्थ

माइक्रो व मैक्रो न्यूट्रिएंट्स तत्व जरूरी

बच्चों के विकास के साथ उन्हें विशेष पोषक तत्वों की जरुरत होती है, जो कि उन्हें स्वस्थ बनाते हैं। बच्चों को विटामिन के साथ माइक्रो व मैक्रो न्यूट्रिएंट्स तरह के तत्व बहुत जरूरी होते हैं। जिससे बच्चे किसी काम को तेजी से करेंगे। यदि इसमें से किसी तत्व की कमी बच्चों में है तो इसका असर उनके हेल्थ पर पर पड़ेगा।

ये विटामिन आपके बच्चे के हेल्थ को रखेगा स्वस्थ/p>


1. विटामिन ए
विटामिन ए आंखो की रोशनी के लिए बहुत जरूरी होता है। इसकी कमी से बच्चों की हड्डियों का विकास प्रभावित होता है। विटामिन ए इम्यून तंत्र को मजबूत बनाने में मदद करता है। इसकी पूर्ति के लिए बच्चों को गाजर, शकरकंदी, मेथी, ब्रोकली, पत्तागोभी, मछली का तेल, अंडे का पीला भाग और हरी पत्तेदार सब्जियां खिलाएं।

2. विटामिन बी कंप्लैक्स
विटामिन बी कंप्लैक्स शरीर में लाल रक्तकणिकाओं को बनाने में मदद करता है जो शरीर के पूरे हिस्सों में ऑक्सीजन पहुंचाते हैं। इसकी कमी होने पर बच्चों को एनीमिया की समस्या हो सकती है। इसकी कमी को दूर करने के लिए बच्चों को मछली, सीफूड, अंडा, दूध, दूध से बनने वाली चीजों का सेवन कराना चाहिए।

3. विटामिन सी
यह बच्चों के इम्यून तंत्र को मजबूत बना कर उनको रोगों से बचाता है। इसके अलावा यह मसूड़ों को स्वस्थ रखता है। बढ़ते बच्चों के लिए यह बहुत पोषक तत्व है। इसके लिए उन्हें खट्टे फल जैसे संतरा, स्ट्राबैरी, टमाटर, आम तरबूज, खरबूज, पत्तागोभी, फूलगोभी आदि खाने की आदत डालें।

4. विटामिन डी
यह शरीर में कैल्शियम स्तर को कंट्रोल में रखता है जो हड्डियों की मजबूती के लिए बहुत जरूरी है। इसके अलावा यह शरीर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। विटामिन डी के स्त्रोत सूर्य की किरणें, दूध, अंडा, चिकन, मछली हैं।

5. विटामिन ई
विटामिन ई शरीर को एलर्जी से बचाए रखता है। इसे आप अंडे, सूखे मेवे जैसे बादाम, अखरोट, सूरजमुखी के बीज, हरी पत्तेदार सब्जियां, शकरकंद, शलगम, आम, पपीते से प्राप्त कर सकते हैं।

6. आयरन
आयरन की कमी होने पर एनीमिया, थकान और कमजोरी होने लगती है। इसकी पूर्ति के लिए बच्चों को साबूत अनाज, फलियां, हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे पालक, मेथी खाने की आदत डालें।

7. कैल्शियम
कैल्शियम हड्डियों और दांतों को स्वस्थ रखने में मदद करता है। इसकी प्राप्त मात्रा मिलने से बच्चे की हाइड बहुत बढ़ती है। इसके लिए बच्चे को अंडे का पीला भाग, ब्रोकली, हरी पत्तेदार सब्जियां, दही, दूध, कम वसा वाला चीज आदि खिलाएं।

8. जिंक
जिंक की कमी होने पर दिमाग कमजोर होने लगता है। इसलिए शरीर को बढ़ने और विकसित होने करने के जिंक बहुत जरूरी होता है। इसे फलियों, साबूत अनाज, सूखा मेवा, दूध से प्राप्त किया जा सकता है।

9. पोटैशियम
शरीर के प्रत्येक कोशिका और अंग को कार्य करने के लिए पोटैशियम की आवश्यकता होती है। यह केले में भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा वसारहित दूध, कम वसा वाला दही व फलियों का सेवन करें।

new jindal advt tree advt
Back to top button