जोगी की तरह शपथ पत्र देते तो रमन होते सलाखों के पीछे : अमीत

विधायक बाफना के घर पहुंच अमीत ने लगाई हूंकार
पार्टी की गोपनियता को बनाए रखने दिया आरएसएस व भाजपा का हवाला

— अनुराग शुक्ला

जगदलपुर. जोगी कांग्रेस अब छत्तीसगढ़ में अपनी सरकार बनाने के लिए उनके पार्टी के सुप्रीमों अजीत जोगी के नाम पर चुनाव लडऩे की तैयारी में है। जनता के प्रति अपने खोए हुए विश्वास को जगाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने जो फंडा अपनाया है उसे उनके पुत्र मरवाही विधायक अमीत जोगी ने यहां पत्रवार्ता के दौरान बयान किया।

अमीत जोगी ने कहा कि उनके पिता अजीत जोगी देश के पहले ऐसे नेता हैं जो अपनी पार्टी का संकल्प पत्र बना रहे हैं। उनका आशय था कि संकल्प पत्र एक कानूनी दस्तावेज है और इसमें किए गए वायदों को नहीं निभाया गया तो फिर दो साल जेल की हवा भी खानी पड़ सकती है। अपने पिता के संकल्प पत्र के मुख्य बिंदुओं पर उन्होंने बताया कि महिलाओं, युवाओं और किसानों के उत्थान के लिए उन्होंने जो संकल्प लिया है उसे पूर्ण करने बाध्य रहेंगे। यदि प्रदेश की रमन सरकार भी अपने घोषणा पत्र की जगह संकल्प पत्र जारी करने की हिम्मत करती तो शायद आज डा. रमन सिंह करीब छह साल सलाखों के पीछे काट चुके होते। शहर में इस दौरना जोगी कांग्रेस के निर्धारित कार्यक्रम के तहत जनजन जोगी का आगाज किया गया। यहां पर अमीत जोगी ने जन जन जोगी के तहत जनता के बीच अपने पिता के संकल्प पत्र और इसकी एहमियत को बताया।

इस दौरान उन्होंने दावा किया है कि पांच टोलियों में उनकी टीम ने एक ही दिन में पांच सौ लोगो से संपर्क किया। इसमें खास बात यह रही कि अमीत जोगी ने खुद ही विधायक संतोष बाफना के घर का रूख किया और उन्होनें यहां पर विधायक की अनुपस्थिति में अपने पिता के संकल्प पत्र को विधायक बाफना के भाई के हाथ में थमाया। यहां से उन्होंने विधायक बाफना से फोन पर चर्चा की और कहा कि यदि हिम्मत है तो आप भी संकल्प पत्र के आधार पर चुनाव लड़कर जनता का भला करें या फिर जेल जानी की तैयारी रखें। इसके बाद जोगी सीधे महापौर जतीन जायसवाल से मिलने निगम पहुंचे जहां उन्होंने अजीत जोगी का संकल्प पत्र उन्हें भी थमाया। माना जा रहा है कि यह कांग्रेस और भाजपा पर सीधा हमला है। हालांकि उन्होंने अपनी पार्टी के अंतर्कलह को लेकर स्पष्ट कहा कि ऐसी स्थिति में हमें भाजपा और आरएसएस से गोपनियता की सीख लेनी चाहिए। पार्टी के आंतरिक मामलों के बाहर आने पर उन्होंने सख्त कार्रवाई और निलंबन की चेतावनी भी दी। भाजपा और आरएसएस के इस परंपरा की उन्होंने खुली तारीफ भी की।

इन पर होगा फोकस

किसान, युवा और महिलाओं को लेकर संकल्प पत्र में जिक्र है कि पार्टी सत्ता में आती है तो किसानों के लिए 25 सौ रूपए धान का समर्थन मूल्य तय होगा। साथ ही किसानों को राहत देने के लिए यह प्रयास होगा कि आवश्यकताअनुसार चयनित किसानों को ऋण मुक्त किया जा सके। वहीं युवाओं के लिए उनके योग्यता के आधार पर रोजगार अथवा स्वरोजगार का श्रजन किया जाएगा। प्रदेश के सभी शासकीय अर्धशासकीय संंस्थाओं में 90 फिसदी स्थानीय युवाओं को नौकरी में प्राथमिकता दी जाएगी। जबकि महिलाओं के लिए आदिवासी क्षेत्रों को छोड़कर पूरे प्रदेश में शराबबंदी लागू की जाएगी। घर में बेटी के जन्म होते ही उसके खाते में एक लाख की एफडी होगी। वहीं महिलाओं के लिए भी शैक्षणिक योग्यता के आधार पर 33 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था होगी।

स्थापना दिवस पर जीत से बल

अमीत जोगी ने अपनी पार्टी की स्थापना दिवस पर दो उपचुनाव में मिली जीत पर खुशी जाहिर करते कहा है कि इससे उनकी पार्टी को बल मिला है। संगठन के एक साल में ही दो उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में परिणाम आए। जैजैपुर नगर पंचायत उपाध्यक्ष तथा दुर्ग नगर निगम के उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशियों की जीत हुई। वहीं दोनोंं राष्ट्रीय पार्टियों को मुंह की खानी पड़ी। उनकी पार्टी में दावेदारों की संख्या अधिक होने की बात पर उन्होंने पत्रकारों को बताया कि पार्टी सुप्रीमों अजीत जोगी की सहमति और उनके चेहरे पर ही सभी सीटो पर जनता कांग्रेस जोगी चुनाव लड़ेगी। पार्टी में फिलहाल किसी की दावेदारी को लेकर कहना जल्दबाजी होगी। हालांकि उन्होंने बातों ही बातों में स्पष्ट भी किया कि उनकी पार्टी में जो गुटबाजी खुलकर सामने आ रही है वैसी स्थिति नहीं है। यह आज पत्रवार्ता के दौरान भी देखा गया जब काफी संख्या में बंटे जोगी कांग्रेसी एकजुटता के लिए मौजूद रहे। यहां तक की महिला विंग भी पूरे समय तत्पर रही।

पोलावरम के लिए जमीन और न्याय की लड़ाई

अमीत जोगी ने पोलावरम बांध निर्माण को लेकर दोनों ही प्रमुख राजनीतिक पार्टियों को आड़े हाथ लिया, उन्होंने कहा कि अभी तक प्रभावित लोगो के हितों की अनदेखी की जा रही है। बांध से डूबान वाले क्षेत्रों का सर्वेक्षण आज पर्यन्त नहीं किया गया। जबकि आंध्रप्रदेश से 67 हजार करोड़ की राशि प्रभावितों के लिए जारी की गई है। बांध का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। निर्माण कार्य को देख ऐसा लगाता है कि फरवरी 2018 तक बांध का कार्य पूर्ण हो जाएगा। प्रदेश की भाजपा सरकार इस इलाके का अब तक सर्वे ही नहीं कर पाई है। इधर दूसरे राज्य की सरकार की बात को हम क्यों मानें। हमारे चालीस हजार प्रभावितों को जिस तरह से सरकार ने वंचित रखा है उसके लिए हम बीजू जनता दल, तेलंगाना राष्ट्रीय समिति और तेलंगाना ज्वाइंट कमेटी के साथ मिलकर तैयारी शुरू कर दी है। जनता के अधिकार के लिए हम जमीन और न्याय की लड़ाई लड़ेंगे।

शंकर प्रवक्ता और अमीत को शहर का प्रभार

अमीत जोगी ने कहा है कि जनजन जोगी कार्यक्रम को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए हर कार्यकर्ता और जिम्मेदार पदाधिकारी को रोजाना दस दरवाजे जाने और संकल्प पत्र के मायने समझाने को कहा गया है। इसकी मॉनिटरिंग और कार्य की स्थिति को देखने के लिए जहां उन्होंने स्पष्ट किया कि ग्रामीण अध्यक्ष अमीत पाण्डेय शहर अध्यक्ष का हाथ अतिरिक्त प्रभार के तौर पर बंटाएंगे वहीं उन्होंने बताया कि पार्टी के कार्यों की पूरी जानकार अब शंकर तिवारी बतौर संभागीय प्रवक्ता मीडिया के समक्ष रखेंगे।

Back to top button