मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित करने पर भारत अड़ा, चीन जाएंगे गोखले

बीजिंग। विदेश सचिव विजय गोखले रविवार को दो दिवसीय चीन दौरे पर रवाना होंगे। इस दौरान वह चीन में विदेश मंत्री वांग यी से जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के प्रयासों में चीनी अड़ंगे के मुद्दे पर चर्चा करेंगे। इसके अलावा विभिन्न अन्य मुद्दों पर भी चर्चा होगी।

बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास ने शनिवार को कहा कि गोखले नियमित बातचीत के लिए चीन का दौरा करेंगे। गोखले 22 अप्रैल को चीन के स्टेट काउंसलर और विदेश मंत्री वांग यी से मिलेंगे। पिछले साल विदेश सचिव का पदभार संभालने से पहले गोखले चीन में भारत के राजदूत थे।

उनकी यात्रा 14 फरवरी के पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत और चीन के बीच संवाद के बीच हो रही है। जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने पुलवामा आतंकी हमले को अंजाम दिया था। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

इस आत्मघाती हमले के बाद अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने पाकिस्तान स्थित मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में एक प्रस्ताव पेश किया था।

लेकिन चीन ने चौथी बार प्रस्ताव पर तकनीकी रोक लगा दी। भारत ने इस कदम को निराशाजनक बताया था। विदेश सचिव अब चीनी विदेश मंत्री से इस मामले में बातचीत करेंगे।

Back to top button