अंतर्राष्ट्रीय

Good News: रूस ने किया 10 अगस्त से पहले दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन लाने का दावा

इस वैक्सीन कई बड़े वैज्ञानिकों ने मास्को स्थित गामालेया इंस्टीट्यूट में बनाया है।

नई दिल्ली: रूस दुनिया को जल्द ही कोरोना वायरस की वैक्सीन देने जा रहा है। रूस के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि कोरोना वायरस की वैक्सीन दो हफ्तों के भीतर बाजार में उपलब्ध होगी। बताया जा रहा है कि अगस्त के बीच में ही कोरोना वायरस की पहली वैक्सीन को मंजूरी मिल सकती है।

इस बारे में सीएनएन चैनल को रूसी अधिकारियों और वैज्ञानिकों ने बताया कि वे वैक्सीन की मंजूरी के लिए 10 अगस्त या उससे पहले लाने की दिशा में काम कर रहे हैं।

सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मी को लगेगी वैक्सीन
बता दें कि इस वैक्सीन कई बड़े वैज्ञानिकों ने मास्को स्थित गामालेया इंस्टीट्यूट में बनाया है। इस इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों का दावा है कि वे जल्द ही आम जनता के उपयोग के लिए इस वैक्सीन को 10 अगस्त तक मंजूरी दिलवा लेंगे।

वैज्ञानिकों का कहना है कि इस वैक्सीन को सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों को दिया जाएगा। ऐसा करने के बारे में उन्होंने कहा है कि ऐसा करने से संक्रमण के प्रसार में कमी आएगी और कोरोना से लड़ रहे स्वास्थ्यकर्मियों में उत्साह भी बढ़ जाएगा।

ऐतिहासिक क्षण
इस वैक्सीन को लेकर रूस के सोवरन वेल्थ फंड का कहना है कि ये एक ऐतिहासिक मौका होगा। जैसे हमने अंतरिक्ष में पहला सैटेलाइट छोड़ा था। यह वैसा ही क्षण होगा। जैसे अमेरिका के लोग पहली सैटेलाइट स्पुतनिक के बारे में जानकर हैरान थे, वैसे ही इस वैक्सीन के आने का सुनकर वो हैरान हों जाएंगे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button