Google Chat Feature ने कर ली है एंट्री, अब मिलेगी WhatsApp और Telegram को टक्कर

ऐसे मिलेगा ऐक्सेस

google chat feature for android and iOS mobile devices
Gmail में अब आप Google Chat ऐप को इंटीग्रेट कर सकते हैं. अगर आप ऐपल आईफोन या एंड्रॉयड पर अगर आप जीमेल ऐप यूज करते हैं, तो आपके लिए यह अच्छी खबर है. यही नहीं, अब जीमेल में ही आपको मेल (Mail), मीट (Meet) और रूम्स (Rooms) मिलेंगे. इन सभी को अब आईओएस और एंड्रॉयड जीमेल ऐप का हिस्सा बना दिया गया है.
iPhone पर आया, अब Android की बारी

जीमेल चैट मैसेजिंग ऐप अब तक सिर्फ गूगल वर्कस्पेस (google workspace) यूजर्स के लिए उपलब्ध था. गूगल अब इस फीचर को पर्सनल अकाउंट के लिए भी जारी कर रही है. इसका मतलब यह है कि आईफोन और आईपैड पर उपलब्ध जीमेल ऐप के बॉटम में चार टैब मिलेंगे. रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह फीचर फिलहाल आईओएस पर अच्छे से काम कर रहा है. उम्मीद है एंड्राॅयड पर भी जल्द ही इसका ऐक्सेस मिल जाएगा.

कैसे करें ऐक्सेस?

Gmail के इस नये चैट फंक्शन को ऐपल आईफोन या एंड्रॉयड फोन पर यूज किया जा सकता है.

इसके लिए आपको अपने जीमेल ऐप को सबसे पहले अपडेट करना होगा.

ऐप अपडेट होने के बाद जीमेल ओपन करें.

इसमें आपको टॉप लेफ्ट स्क्रीन पर मौजूद सैंडविच बटन पर ना है.

इससे साइडबार ऑप्शन ओपन हो जाएगा.

इसके बाद स्क्रॉल डाउन करके सेंटिग में जाएं.

यहां अपने पर्सनल अकाउंट को सेलेक्ट करें.

यहां पर आपको एक ऑप्शन Chat (early access) मिलेगा.

इसे टॉगल ग्रीन करके एनेबल कर दें.

इसके बाद अपने जीमेल ऐप को रीस्टार्ट कर दें.

अब आपको बॉटम में टैब का ऑप्शन दिखेगा.

इससे आसानी से चैट किया जा सकता है.

Google पर मनमानी का आरोप, Italy ने लगाया 900 करोड़ रुपये का जुर्माना, बड़ा संगीन है मामला

Hangouts ऐप को बाय-बाय?

Google के इस फीचर से व्हाट्सऐप, टेलीग्राम और सिग्नल को टक्कर मिल सकती है. गूगल चैट इंटरफेस से आप मीडिया और फोटो भी शेयर कर सकते हैं. इससे आप सीधे गूगल ड्राइव (Google Drive) को ऐक्सेस कर इसका कंटेंट शेयर कर सकते हैं. आप गूगल कैलेंडर (Google Calendar) ऐक्सेस कर किसी मीटिंग को शेड्यूल भी कर सकते हैं. जीमेल पर आये इस नये चैट मैसेजिंग फंक्शन के जारी होने के बाद यह माना जा रहा है कि गूगल जल्द अपने हैंगआउट्स (Hangouts) ऐप को हटा देगा.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button