टेक्नोलॉजी

डाटा पर ज्यादा नियंत्रण देने अपने उपयोगकर्ताओं को फीचर्स देंगे गूगल

इनमें सर्च (खोज) और मैप (नक्शे) से जुड़े फीचर्स शामिल

नई दिल्ली: सर्च इंजन गूगल जल्द ही उपयोगकर्ताओं को सीधे गूगल मैप्स में लोकेशन गतिविधि से संबंधित जानकारी की समीक्षा करने और हटाने (डिलीट) की सुविधा देगी. इसके अलावा वह मैप में इनकॉगनिटो मोड का निर्माण कर रहा है.

साथ ही डाटा सुरक्षा और निजता को लेकर दुनियाभर में चल रही बहस के बीच गूगल ने अपने उपयोगकर्ताओं को आंकड़ों (डाटा) पर ज्यादा नियंत्रण देने के लिए अगले कुछ महीनों में कई फीचर्स देने की घोषणा की है. इनमें सर्च (खोज) और मैप (नक्शे) से जुड़े फीचर्स शामिल हैं.

गूगल ने डेवलपरों के लिए आयोजित आई/ओ सम्मलेन में कहा कि यह उपयोगकर्ताओं के लिए मैप, असिस्टेंट और यू-ट्यूब में आंकड़ों या जानकारियों के प्रबंधन को आसान बना देगा. कंपनी ने एक कंट्रोल फीचर पेश किया है जो उपयोगकर्ताओं को लोकेशन, वेब एवं एप की गतिविधियों से जुड़ी जानकारियों को 3 महीने या 18 महीने तक सहेज कर रखने का विकल्प देता है.

गूगल इस महीने के आखिर तक सर्च, मैप, यूट्यूब, क्रोम, असिस्टेंट और गूगल न्यूज जैसे प्लेटफॉर्म में निजता और सुरक्षा सेटिंग्स के लिए वन-टैप सुविधा लाने पर काम रही है. गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई ने मंगलवार को देर रात कार्यक्रम में कहा, “हमारा मानना है कि गोपनीयता कुछ लोगों के लिए नहीं बल्कि सभी के लिए जरूरी है. हम उपयोगकर्ताओं की उम्मीदों को पूरा करने में आगे रहना चाहते हैं.”

Tags
Back to top button
%d bloggers like this: