विज्ञापन के लिए यूजर्स के जीमेल की जासूसी नहीं करेगा गूगल

तमाम विवाद के बाद गूगल ने आखिरकार बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि वह विज्ञापन के लिए यूजर्स के जीमेल अकाउंट की जासूसी (स्कैन) नहीं करेगा। हालांकि यह ऐलान गूगल की विज्ञापन टीम ने नहीं बल्कि क्लाउड यूनिट ने किया है। इसकी जानकारी गूगल ने ब्लॉग में दी गई है।
दरअसल कई सालों से यूजर्स गूगल के इस काम पर सवाल उठा रहे थे। गूगल जीमेल में मौजूद कीवर्ड्स और यूजर्स के सर्च के आधार पर विज्ञापन दिखाता था। बता दें कि इस समय पूरी दुनिया में जीमेल के 1.2 बिलियन यूजर्स हैं और गूगल 2004 से जीमेल को स्कैन करके विज्ञापन दिखाता आ रहा है।

गूगल ने अपने ब्लॉग में कहा है कि पेड जीमेल यूजर्स के अकाउंट अब स्कैन नहीं होंगे, वहीं फ्री जीमेल यूजर्स के अकाउंट की स्कैनिंग साल 2017 के अंत तक बंद कर दी जाएगी। बता दें कि गूगल की योजना अब विज्ञापन दिखाने की है। हालांकि विज्ञापन पेड यूजर्स को नहीं दिखाएं जाएंगे।

Back to top button